जेंटामीसिन Gentamicin Margdarsan, Health Tips News Hindi, Expert Advice, Enlighten, Pursuing Knowledge, Helping Guide जेंटामीसिन Gentamicin - Margdarsan, Health Tips News Hindi, Expert Advice, Enlighten, Pursuing Knowledge, Helping Guide

जेंटामीसिन Gentamicin

जेंटामीसिन क्या है ? 

Gentamicin / जेंटामीसिन अमिनोग्लिक्साइड एंटीबायोटिक दवा के समूह से है। जेंटामीसिन खास एंटीबायोटिक  है। जेंटामीसिन का उपयोग मुख्य रूप से शरीर से जीवाणु वृद्धि को रोकना है।  जेंटामीसिन बैक्टीरिया को फैलने से रोकता है और जेंटामीसिन शरीर से बैक्टीरिया नष्ट करने में सहायक है। जेंटामीसिन का र्फामुला C21H43N5O7 है। और ड्रग क्लास  Aminoglycoside Antibiotic (1403-66-3) है।


About-Gentamicin- Antibiotic, Gentamicin-antibiotic-in-hindi, जेंटामीसिन-क्या-है-?,  Gentamicin-uses


जेंटामीसिन के प्रकार उपयोग

जेंटामीसिन निम्नलिखित तरह से उपयोग होता होता हैः

  • इंजेक्शन
  • क्रीम
  • लोशन
  • कान ड्रॉप्स
चिकित्सक जेंटामीसिन का प्रयोग 6 तरह से करते हैं 

बैक्टीरियल मैनिंजाइटिस / Bacterial Meningitis
जेंटामीसिन स्ट्रैप्टोकोकस न्यूमोनिया और नेइज़ेरिया मेनिंगिटिडिस के कारण मस्तिष्क और रीढ़ की हड्डी में सूजन मेनिन्जाइटिस की वजह पर उपचार के लिए किया जाता है।

त्वचा ऊतक संक्रमण / Skin - Soft Tissue Infections
स्ट्रेटोकोकस पाइजेंस  और स्टेफिलाकोकास ऑरियस की वजह से त्वचा - टिशुज संक्रमण के उपचार के लिए जेंटामीसिन प्रयोग किया जाता है।

ऑस्टियोमाइलाइटिस / Osteomyelitis
हड्यिों के उपचार में स्टेफिलाकोसी और स्ट्रेटोकोकी के तरह होने वाले ऑस्टियोमाइलाइटिस जैसे संक्रमण में 
जेंटामीसिन का प्रयोग होता है।

बेक्टेरेमिया / Bacteremia
स्ट्रैफिलोकोसी और स्ट्रेटोकोकस पाइजेंस के कारण रक्त का संक्रमण बेक्टेरेमिया होने पर पर जेंटामीसिन का प्रयोग किया जाता है।

इंट्रा एब्डोमिनल / Intra Abdominal Infections
पेट संक्रमण प्रकार जैसे हेलिकोबैक्टर पाइलोरी, स्टेफिलाकोसी और स्ट्रेप्टोकोसी  में जेंटामीसिन का प्रयोग किया जाता है।

पाइलोनेफ्रिटिस / Pyelonephritis
ईकाली, स्यूडोमोनस एरुगिनोसा,  एन्ट्रोकोकी और क्लेबसिला न्यूमोनिया के कारण गुर्दा में होने वाले पाइलोनेफ्रिटिस नामक संक्रमण के लिए जेंटामीसिन का प्रयोग किया जाता है।

जेंटामीसिन का प्रयोग 

जेंटामीसिन निम्न बीमारियों के लक्षणों के उपचार और रोकथाम के लिए किया जाता है:
  • बैक्टीरियल संक्रमण
  • आंख संक्रमण
  • आंखों सूजन
  • बच्चेदानी में सूजन
  • ब्रूसीलोसिस
  • जलना
  • दिमागी बुखार
  • स्यूडोमोनस संक्रमण
  • हड्डी का संक्रमण
  • क्लेबसिएल्ला संक्रमण
  • प्लेग
  • सिस्टिक फाइब्रोसिस
  • पेल्विक इंफ्लेमेटरी डिजीज
  • पेरिटोनिटिस
  • निमोनिया 
  • टुलारेमिया
  • डर्माटाइटिस
  • एक्जिमा 
  • जोड़ों में इन्फेक्शन
  • इम्पेटिगो
  • सेलुलाइटिस
  • सेबोरिक डर्मेटाइटिस
  • कॉन्टैक्ट डर्मेटाइटिस
  • पायोडर्मा गैंग्रेनोसम
  • कान संक्रमण
जेंटामीसिन दुष्प्रभाव 
  • सिरदर्द 
  • सुनने में परेशानी 
  • धुंधली दृष्टि
  • मतली या उलटी
  • दस्त
  • थकान 
  • लार  वृद्धि 
  • त्वचा लाल होना
  • खुजली या रेश
  •  दुर्बलता
  • कानों का बजना
  • अवसाद
  • मुंह की सूजन
जेंटामीसिन डाॅक्टर सलाह से ही लें। जेंटामीसिन इंजकेक्शन के अलावा क्रीम, लोशन और कान ड्रॉप्स मिक्सड
 रूप में भी प्रयोग किया जाता है। जेंटामीसिन बहुत ही उपयोगी एंटीबायोटिक है। मरीज को जेंटामीसिन एंटीबायोटिक आयुवर्ग, वजन और अलग-अलग रोगों की समीक्षा के आधार पर दिया जाता है।