शहद और हल्दी अमृत औषधि Honey with Turmeric Benefits in Hindi Margdarsan, Health Tips News Hindi, Expert Advice, Enlighten, Pursuing Knowledge, Helping Guide शहद और हल्दी अमृत औषधि Honey with Turmeric Benefits in Hindi - Margdarsan, Health Tips News Hindi, Expert Advice, Enlighten, Pursuing Knowledge, Helping Guide

शहद और हल्दी अमृत औषधि Honey with Turmeric Benefits in Hindi

शहद और हल्दी अलग-अलग अपने आप में एक महा औषधि रूप है। परन्तु हल्दी शहद मिलाकर सेवन करना खास फायदेमंद है। जोकि विभिन्न तरह के रोगों संक्रमण विकारों में अमृत औषधि की तरह है। शहद और हल्दी स्वास्थ्य के लिए बहुत ही लाभकारी आयुर्वेदिक औषधि है। शहद और हल्दी सैकड़ों बीमारियों को एक साथ रोकने में सहायक है। शहद और हल्दी के मिश्रण से प्राचीनकाल से ही वैद्य ऋषि अलग अलग बीमारियों में उपयोग करते थे। शहद और हल्दी सफल औषधि मानी जाती है।

हल्दी शहद में मिलाकर खाने के जबरदस्त फायदे / हल्दी और शहद के फायदे / शहद हल्दी औषधि / Honey with Turmeric Benefits in Hindi / haldi shahad ke fayde / Shahad Haldi Aushadhi / Fight Illness with Honey and Turmeric / Haldi Shahad ke gun

शहद और हल्दी अमृत औषधि , Honey with Turmeric Benefits in Hindi, shahad haldi aushadhi, शहद हल्दी औषधि,  haldi shahad ke gun, हल्दी और शहद के फायदे, haldi shahad ke fayde

मोटापा, वजन घटाये 

जो लोग वजन मोटापा घटा रहे हैं, उनके लिए हल्दी शहद मिश्रण खास फायदेमंद है। शहद रिच एन्टीआॅक्सीडेंट है। और हल्दी रिच करक्यूमिन स्रोत है। हल्दी शहद मिश्रण शरीर से फैट कम करने और एक्स्ट्रा कैलौरी बर्न करने में सहायक है।

गठिया जोड़ों के दर्द निवारण
गठिया, शरीर अंगों में दर्द सूजन विकारों में हल्दी शहद मिश्रण खास फायदेमंद है। हल्दी शहद रिच इंफ्लेमेंटरी स्रोत है। हल्दी शहद दर्द सूजन ठीक करने के साथ साथ एक तरह से नेचुरल पेन किलर भी है।

रोगप्रतिरोधक क्षमता बढाये
हल्दी शहद रोगप्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने का अच्छा स्रोत है। हल्दी शहद खाने से संक्रमण वायरल, फ्लू विभिन्न तरह के रोग विकार दूर रहते हैं। शरीर को स्वस्थ्य रोगमुक्त रखने में हल्दी शहद सहायक है।

कैंसर निवारण औषधि 
हल्दी शहद फ्लेवोनाइड्स का रिच स्रोत है। विभिन्न तरह के कैंसर में हल्दी शहद खास फायदेमंद है। सप्ताह में 1-2 बार हल्दी शहद मिश्रण खाने से कैंसर होने की सम्भावनाएं नहीं रहती है।

संक्रमण वायरल मिटाये
हल्दी शहद रिच एंटी बैक्टीरियल है। जोकि बैक्टीरिया, त्वचा एलर्जी, त्वचा रोगों से दूर करने में सक्षम है। हल्दी शहद सेवन त्वचा को चमकदार, मुलायम और दागमुक्त रखने में सहायक है।

घाव सड़न तुरन्त ठीक करे 
अधिकत्तर शरीर अंग सड़न मामलों में डाॅक्टर अंग काटते हैं। जैसे कि पैर, हाथ, उगंलियां सड़ने पर, अंग संडन संक्रमण आदि गंभीर समस्याओं में। परन्तु कच्ची हल्दी और शहद लेप मालिस सड़न अंगों को दोबारा से जान डालने में खास सहायक है। शरीर अंगों में चोट, घाव-पस-फोड़ा, सड़न मामलों कच्ची हल्दी और शहद पेस्ट लगायें। यह प्राचीन खास प्रसिद्ध औषधि है। जोकि दोबारा से मरे अंगों की कोशिकाओं को रक्त संचार कर जीवित कर देती है।

हार्ट मरीज के अचूक औषधि 
हल्दी शहद बैड कोलेस्ट्राॅल लेवल घटाने और अच्छे कोलेस्ट्राॅल लेवल बढ़ाने और हृदय घात से बचाने में सहायक है। हृदय से सम्बन्धित बीमारियों को दूर रखने में शहद हल्दी सेवन फायदेमंद है।

उच्च रक्तचाप घटाये 
लगातार ब्लडप्रेशर की समस्या रहने पर एक सप्ताह सुबह शाम शहद हल्दी अजमा कर अवश्य देखें। हल्दी शहद उच्चरक्तचाप शीघ्र नियंत्रण करने में सहायक है। हल्दी शहद नेचुरल रिच पोटेशियम का स्रोत है। जोकि ब्रेन स्ट्राॅक और हार्ट अटैक के रिस्क को घटाने में सहायक है।

फैटी लिवर घटाये 
फैटी लिवर बढ़ने पर रोज सुबह शाम हल्दी शहद सेवन करना फायदेमंद है। लिवर सूजन, दर्द, संक्रमण को तेजी से घटाने में शहद कच्ची हल्दी मिश्रण सेवन करना सहायक है।

पाचन शक्ति बढ़ाये 
अपचन, गैस, कब्ज, एसिडिटी समस्याओं से बचाने में शहद हल्दी मिश्रण सेवन फायदेमंद है। हल्दी शहद फाइबर पोषक तत्वों का रिच स्रोत है।

दांतों के लिए बरदान 
दांतों मसूड़ों में दर्द, पायरिया, अन्य विभिन्न तरह के दांतों की समस्या में हल्दी शहद मिश्रण खाना और लगाना फायदेमंद है। शहद हल्दी रिच फास्फोरस का स्रोत है।

चोट घाव में नेचुरल औषधि 
शरीर में अंदुरूनी चोट, घाव लगने पर 1 गिलास दूध हल्दी पाउडर, शहद मिलाकर सेवन करने से चोट, घाव जल्दी ठीक होते हैं। हल्दी शहद दूध मिश्रण अंदुरूनी चोट घाव दर्द सूजन संक्रमण - विकराल होने से बचाने और जल्दी ठीक करने में सक्षम है।

अस्थमा मिटाये 
अस्थमा, सांस सम्बन्धित समस्याओं को दूर करने के लिए हल्दी शहद मिश्रण सेवन करना फायदेमंद है। शहद हल्दी फेफड़ों को साफ स्वस्थ रखने में सहायक है।

सर्दी जुकाम ठीक करे 
सर्दी - जुकाम - खांसी होने पर शहद, हल्दी, अदरक मिश्रण का सेवन करने से जल्दी फायदा होता है। शहद हल्दी अदरक मिश्रण सर्दी जुकाम खांसी की अचूक घरेलू दवा है।

मधुमेह से बचाये
शहद हल्दी सेवन सप्ताह में 1 बार करने पर डायबिटीज की सम्भावनाएं नहीं रहती। शहद हल्दी डायबिटीज से दूर रखने में सहायक है।

हल्दी शहद सेवन विधि और सावधानियां 
  • चुटकी भर हल्दी को 1 चम्मच शहद के साथ अच्छे से मिलायें फिर खायें।
  • या फिर चुटकीभर हल्दी, 1 चम्मच शहद को दूध के साथ मिलाकर सेवन करें।
  • हल्दी पाउडर से अधिक फायदेमंद कच्ची हल्दी है। कच्ची हल्दी की 5-6 बूंदें इस्तेमाल करें।
  • संक्रमण, वायरल, फ्लू, जुकाम, खांसी में हल्दी शहद सेवन के तुरन्त बाद पानी नहीं पीयें।
  • पूरे दिन (सुबह शाम)1-1 चम्मच शहद और चुटकी भर हल्दी पाउडर मिश्रण ही सेवन करें। जल्दी फायदे के लिए बार-बार नहीं खायें।
  • गर्मी मौंसम में शहद आधा चम्मच और हल्दी लगभग चुटकीभर मिश्रण ही सेवन करें। हल्दी शहद सेवन बाॅडी को अन्दर से हीट करती है।
  • ज्यादा मात्रा में हल्दी शहद खाने से पेट में गर्मी, जलन, दर्द समस्याएं हो सकती हैं।
  • गर्भवती महिलाएं हल्दी शहद मिश्रण सेवन से परहेज करें। शहद हल्दी मिश्रण बाॅडी हीट करती है। शहद हल्दी अधिक सेवन गर्भपात करा सकती है।
  • डायबिटीज मरीज शहद हल्दी खाने से परहेज करें। शहद शर्करा लेवल बढ़ा सकता है। डायबिटीज मरीज के लिए कच्ची हल्दी रस खास फायदेमंद है।
  • शहद हल्दी मिश्रण सेवन सीमित मात्रा में करें। यह एक खास औषधि रूप है।