जीभ के बारे में आश्चर्यजनक तथ्य Tongue Facts in Hindi Margdarsan, Health Tips News Hindi, Expert Advice, Enlighten, Pursuing Knowledge, Helping Guide जीभ के बारे में आश्चर्यजनक तथ्य Tongue Facts in Hindi - Margdarsan, Health Tips News Hindi, Expert Advice, Enlighten, Pursuing Knowledge, Helping Guide

जीभ के बारे में आश्चर्यजनक तथ्य Tongue Facts in Hindi

जीभ मुंह का अहम अंग है। जीभ आवाज संतुलन से लेकर भोजन स्वाद पहचान, मुंह की साफ सफाई जैसे विभिन्न कार्य करता है। जीभ के बारे में कुछ खास आश्चर्यजनक इस प्रकार से हैं। जिन्हे जानकर आप हैरान रह जायें।

जीभ के बारे में आश्चर्यजनक तथ्य / जीभ के तथ्य  / Tongue Facts in Hindi / Jeebh ke bare me Rochak Tathya / Amazing Tongue Facts

जीभ के बारे में आश्चर्यजनक तथ्य, Tongue Facts in Hindi, jeebh ke bare me rochak tathya, जीभ के रोचक तथ्य , amazing lungs facts
  • जीभ मुंह में क्लीनर की तरह काम करती है। जीभ मुंह, दांतों पर फंसे भोजन को साफ करती है।
  • जीभ शरीर के अन्य मसल्स में से सबसे अधिक मजबूत और लचीली होती है।
  • जीभ एक तरह से सेन्स आॅर्गन है। जोकि विभिन्न स्वादों को पहचानने में मदद करती है।
  • जीभ मुख्य रूप से खट्टा, मीठा, कड़वा, नमकीन, उमामी स्वादों से ही अन्य स्वाद पहचानती है।
  • जीभ में मौजूद स्वाद बड्स काफी छोटे होते हैं। लेकिन टेस्ट बड्स को आईने में आसानी से देखा जा सकता है।
  • हाथों की तरह जीभ के भी टंगरप्रिंट होते हैं। सभी व्यक्तियों के टंगप्रिंट अलग-अलग होते हैं।
  • जीभ के टेस्ट बड्स को पपिल्लै papillae कहा जाता है।
  • कुछ स्वाद जीभ के अलावा गले अन्दर की तरफ भी होते हैं। जीभ अकेला सभी स्वादों पता नहीं लगा सकती।
  • जीभ में 10,000 मांसपेसियों के स्वाद सेंसर लगे हैं। जोकि हर तरह के भोजन खाद्यपदार्थों का सेकेंड से भी कम समय पता लगा लेती है।
  • जीभ 8 मांसपेशियों से बनी होती है। 8 में से 4 जीभ मांसपेशियां किसी भी हड्डी से नहीं जुड़ी होती है। जोकि जीभ को मोड़ने, पलटने, आकार बदलने का काम करती हैं। जोकि बहुत लचीली होती हैं।
  • जीभ चोट, क्षतिग्रस्त, घायल होने पर खुद मसल्स टिश्यू तैयार कर देती है। जीभ में खुद अपने आप को तेजी से ठीक करने क्षमता होती है।
  • जीभ के बिना शब्दों के उच्चारण तालमेल करना असम्भव है।
  • शब्द उच्चारण के दौरान जीभ अधिक लचीली हो जाती है।
  • सामान्य मनुष्य जीभ की लम्बाई 3.86 और चैड़ाई 3.1 इंच तक होती है।
  • महिलाओं की जीव पुरूर्षों से लम्बाई में कम होती है। महिलाओं की जीभ सामन्यत 2.76 इंच तक लम्बी होती है।
  • जीभ के अलग अलग रंग में होना शरीर में रोगों की मौजूदगी दर्शाती है।
  • लाल जीभ फाॅलिक एसिड़ विटामिन बी12 की कमी, बच्चों में आंतरिक बुखार की ओर संकेत करती है।
  • जीभ पर सफेद धब्बे कैंसर, रक्त खराब, संक्रमण की ओर संकेत करती है।
  • जीभ में कालापन डायबिटीज, बैक्टीरिया अतिवृद्धि, दवाईयों के साईड इफेक्टस की ओर संकेत करती है।
  • जीभ में छाले मुंह अल्सर, पेट में गर्मी की ओर संकेत करते हैं।
  • जीभ बहुत से रोगों के बारे में सकेत करती है।
  • मुंह में मौजूद 50 प्रतिशत बैक्टीरिया हमेशा जीभ पर ही सक्रीय रहते हैं। जीभ को हमेशा साफ रखें। जीभ स्वाद से लेकर सांसों में ताजगी, मुंह क्लीनर का कार्य करती है।