माइग्रेन सरदर्द के लक्षण कारण उपचार Migraine in Hindi Margdarsan, Health Tips News Hindi, Expert Advice, Enlighten, Pursuing Knowledge, Helping Guide माइग्रेन सरदर्द के लक्षण कारण उपचार Migraine in Hindi - Margdarsan, Health Tips News Hindi, Expert Advice, Enlighten, Pursuing Knowledge, Helping Guide

माइग्रेन सरदर्द के लक्षण कारण उपचार Migraine in Hindi

माइग्रेन एक तरह का सरदर्द है। माइग्रेन दर्द सिर के एक तरफ धमनियों में तीब्र दर्द सूजन होना है। हल्का और तीब्र असहनीय दर्द से व्यक्ति तड़प उठता है। जिसे आम भाषा में अर्धशिशि, अर्धकपारी, सरदर्द कहा जाता है। साधारण सरदर्द को इग्नोर नहीं करें। माइग्रेन सरदर्द से लकवा, ब्रेन ट्यूमर, ब्रेन स्ट्राॅक हो सकता है। माइग्रेन होने पर तुरन्त चिकित्सक सलाह और उपचार करवायें।

माइग्रेन सरदर्द के लक्षण कारण उपचार / Migraine in Hindi / Migraine ke lakshan / Migraine ke Karan, Migraine se bachne Ke upay / Migraine relief tips

माइग्रेन सरदर्द के लक्षण कारण उपचार, Migraine in Hindi, migraine ke lakshan, migraine ke karan, migraine se bachne ke upay, माइग्रेन से बचने के लिए उपाय, migraine relief tips, Tips to Relieve Migraine Pain, Tips To Get Rid of A Headache Quickly without Medicine

माइग्रेन के लक्षण 
  • सिर के एक हिस्से में दर्द।
  • आंखों में जलन दर्द होना।
  • धुधलापन दिखना।
  • आंखों से पानी आना।
  • उल्टी आना।
  • सिर चक्कराना।
  • भूख कम लगना।
  • सरदर्द के साथ नजर कमजोर होना।
  • शरीर अंगों खासकर हाथ पैरों में सुन्नपन महसूस करना।
  • सरदर्द के साथ घबराहट
  • उजाला, गंध और आवाज से अचानक विचलित संवेदनशील होना।
  • समझने की शक्ति कमजोर होना।
  • भावनाओं में परिवर्तन आना।
माइग्रेन सरदर्द के कारण
माइग्रेन सरदर्द के मुख्य वजह अधिक तनाव - फिक्र, कम सोने, असंतुलित खानपान, खराब लाईस्टाइल, उच्च रक्तचाप, आनुवांशिकता, वर्कआउट नहीं होना, धमनियों का सिकुड़ जाना, देर तक कान में हेडफोन - लीड़ लगाने से, ज्यादा देर तक कम्प्यूटर, टेलीविजन देखने पर, मस्तिष्क विकार जैसे कारण माने जाते हैं। सरदर्द शुरूआत में कम रहता है। समय पर उपचार नहीं होने पर धीरे-धीरे बढ़ता है। 

माइग्रेन से बचने के लिए उपाय:
पर्याप्त पानी 
पर्याप्त पानी पीयें। शरीर में पानी की कमी भी एक तरह से माइग्रेन सरदर्द का कारण होता है। हमेशा पानी सही तरीके से पीयें। पानी पीने के नियम - तरीके अवश्य जानें।

संतुलित पोषण
संतुलित आहार में फल, फल रस, हरी पत्तेदार सब्जियां, सलाद, नट्स, दुग्ध खाद्यपदार्थ, सोया खाद्यपदार्थ, मछली जैसे रिच फूड्स शामिल करें।

पर्याप्त नींद 
भरपूर नींद लें। रोज 7-8 घण्टे सायें। पर्याप्त नींद मस्तिष्क, पाचन, रक्तसंचार के लिए उपयुक्त मानी जाती है। कम सोना भी एक तरह से माइग्रेन सरदर्द का कारण है। माईग्रेन मुक्त रहने के लिए पूरी नींद भी जरूरी है।

तनाव मुक्त प्राणायाम योगा व्यायाम 
रोज अनुलोम-विलाम प्राणायाम, पश्चिमोत्तसन, मेडिटेशन करें। अनुलोम-विलाम प्राणायाम मस्तिक विकार, तनाव-क्रोध-भय, माइग्रेन सरदर्द से छुटकारा पाने का अच्छा माध्यम है। प्राणायाम सरदर्द के अलावा फेफड़ो, पाचन, किड़नी, दिल को स्वस्थ रखने में सहायक है।

हार्मोंस संतुलन 
महिलाओं में माइग्रेन सरदर्द का एक कारण हार्मोंस असंतुलन भी है। अकसर महिलाओं में मासिक धर्म में रक्त स्राव के दौरान हार्मोंस में गड़बड़ी होती है। मासिक धर्म के बाद होने वाले सरदर्द में तुरन्त महिला विशेषज्ञ से विचार विर्मश उपचार करवायें।

बर्फ, ठंड़ी पट्टी 
माइग्रेन सरदर्द में ठंड़े पानी में सूती कपड़ा भिगो कर सिर पर सिकाई करना फायदेमंद है। या फिर बर्फ से माथे सिर ग्रसित जगह पर रखें। यह एक तरह से तीब्र सरदर्द से जल्दी आराम देता है। और फैली हुई मस्तिष्क धमनियां ठंड़ी सिकाई से बैठ जाती हैं।

संगीत मनोरंजन
कई बार तनाव, भय, क्रोध, हाईपर के वजह से सरदर्द होता है। संगीत मनोरंजन एक तरह से माइग्रेन सरदर्द कम करने में सहायक है। और कई लोगों को सरदर्द की समस्या ज्यादा देर तक हेडफोन, लीेड़ कान में लगाने से भी होती है। ज्यादा शोरगुल, तेज आवाज, लाउडस्पीकर, ध्वनि प्रदूषण, तेज आवाज से बचें।

मोबाईल कम्प्यूटर तनाव 
मोबाईल, कम्प्यूटर, टेलीविजन, हेडफोन, माबाईल लीड का इस्तेमाल सीमित रखें। ज्यादा मोबाईल कम्प्यूटर स्क्रीन सरदर्द आंखों की जलन का एक कारण हो सकता है। ज्यादा देर तक मोबाईल, कम्प्यूटर, टेलीविजन, कान लीड की बुरी आदत भी धीरे-धीरे सरदर्द से गंभीर माइग्रेन समस्या बन सकती है।

अनहेल्दी फूड्स 
शोध में माइग्रेन सरदर्द का एक कारण अनहेल्दी खाना जैसे जंकफूड, सोड़ा पेय, डिब्बा खाद्यपदार्थ, तलीभुनी चीजें, तेलीय चीजें, कैफीन माना गया है।

नशीले चीजे परहेज
शराब, गुटका, तम्बाकू, धूम्रपान निकोटीन, नशीली चीजों से परहेज करें। नशीले मादक चीजें घातक माइग्रेन सरदर्द का एक कारण है। जोकि सरदर्द से धीरे-धीरे गंभीर माईग्रेन में बदल जाती है।

वर्कआउट 
माइग्रेन सरदर्द से बचने के लिए सैर, व्यायाम, स्वीमिंग, साईकिलिंग, रस्सीकूद, खेलकूद करना फायदेमंद है। वर्कआउट से शरीर मांसपेशियां, धमनियां स्वस्थ रहती है। और व्यक्ति माइग्रेन सरदर्द से मुक्त रहता है।

माइग्रेन सरदर्द कम करने के अन्य तरीके
  • माइग्रेन सरदर्द से बचने के लिए जब भी धूप में जायें, छाते का इस्तेमाल करें।
  • बालों पर मेहंदी दही का मिश्रण लेप लगायें। यह लेप सरदर्द ठीक करने के साथ-साथ बालों के पौषण, सौन्दर्य के लिए खास है।
  • चुटकीभर नमक जीभ की नोक पर रखें। 1 मिनट बाद ऊपर से ठंड़ा पानी पीयें। अकसर ऐसा करने से सरदर्द तुरन्त मिट जाता है।
  • आलू की पतली स्लाइस (पतले टुक्कडे) सिर माथे पर चिपकायें।
  • सरदर्द से आराम के लिए पुदीना पानी पीयें।
  • माइग्रेन सरदर्द सूजन में बर्फ से ग्रसित जगह को सेकें। यह तरीका जल्दी सरदर्द से दिलाने में सहायक है।
  • गाजर, मौसमी, खीरा, नींबू पानी तासीर सेवन करें।
  • आलू, अचार, पापड़, चिप्स, तलीभुनी चीजें, प्याज, चाॅकलेट, केला, चावल सेवन से बचें।
  • ठंड़े पानी से सिर धोयें।
माइग्रेन सरदर्द होने पर तुरन्त डाॅक्टर से सम्पर्क उपचार करवायें। माइग्रेन सरदर्द लम्बे समय तक रहने से अन्य कई गंभीर बीमारियों में तबदील हो सकती है।