शीध्र घुटनें दर्द ठीक करे यह काढ़ा Fast Knee Pain Relief Kadha in Hindi Margdarsan, Health Tips News Hindi, Expert Advice, Enlighten, Pursuing Knowledge, Helping Guide शीध्र घुटनें दर्द ठीक करे यह काढ़ा Fast Knee Pain Relief Kadha in Hindi - Margdarsan, Health Tips News Hindi, Expert Advice, Enlighten, Pursuing Knowledge, Helping Guide

शीध्र घुटनें दर्द ठीक करे यह काढ़ा Fast Knee Pain Relief Kadha in Hindi

लम्बे समय से घुटनों के दर्द से परेशान हैं तो अजमाये यह खास असरदार काढ़ा : पुराना से पुराना घुटनों दर्द से मात्र 20-30 दिनों में छुटकारा पाया जा सकता है। घुटनों में ज्यादा समय तक दर्द रहने पर डाॅक्टर ज्वांइट बदलवाने की सलाह देते हैं। जोकि काफी दर्दनाक और जीवन भर उठने बैठने चलने फिरने में दर्द शिकायत रहती है। परन्तु आर्युवेदिक अचूक काढ़ा सेवन पुराने से पुराने घुटने दर्द को तेजी से ठीक करने में सहायक है। 

काढ़ा सेवन से हाली में बहुत से लोगों को घुटने दर्द समस्या से आराम मिला है। कई लोगों को यह काढ़ा मात्रा दिन में 2 बार एक-एक कप पीने से 40-45 दिनों में ही घुटनों दर्द से छटकारा मिला है। घुटनों दर्द व्यक्ति के लिए यह काढ़ा एक तरह से अचूक असरदार औषधि है। घुटने दर्द ग्रसित व्यक्ति को काढ़े सेवन का फायदा मात्र 10-15 दिनों में महसूस होने लगता है।

शीध्र घुटनें दर्द ठीक करे यह काढ़ा / जोड़ों के दर्द की आयुर्वेदिक दवा / Fast Knee Pain Relief Kadha in Hindi / Ghutno ke dard ka gharelu ilaj 

शीध्र घुटनें दर्द ठीक करे यह काढ़ा, Fast Knee Pain Relief Kadha in Hindi, Ghutno ke dard ka gharelu ilaj : Home Remedies For knee pain, ghutno ke dard jaldi theek karne ka kadha, जोड़ों के दर्द की आयुर्वेदिक दवा, jodo ke dard ka ayurvedic ilaj , ghutne dard ka kadha, घुटनों दर्द से हमेशा के लिए छुटकारा काढ़ा

घुटनों दर्द से हमेशा के लिए छुटकारा पाने के लिए पीयें दो तरह का असरदार दर्द निवारण काढ़ा :

सहजन काढ़ा (सुबह - दोपहर) 
घुटने दर्द से आराम पाने के लिए सहजन काढ़ा

Sahajan Ka Kadha, सहजन काढ़ा

सामग्री :
  • 100 ग्राम सहजन की छाल 
  • 10 ग्राम अदरक 
विधि :
सहजन की छाल और अदरक को एक साथ बारीक कूट कर 1 लीटर पानी में हल्की आंच में पकायें। पक कर पानी आधा होने पर आंच बन्द कर दें। छानकर काढ़ा निकाल लें। फिर सहजन काढ़ा गुनगुना होने पर 1 कप पीयें। सुबह खाली पेट और दोपहर भोजन से 30-35 मिनट पहले काढ़ा गर्म कर पीयें।
विशेष : सहजन की फली की सब्जी खूब खायें। सहजन फली सब्जी मण्डी, रेड्डियों पर आसानी से मिल जाती है। सहजन फली की सब्जी और छाल का काढ़ा सेवन घुटनों के दर्द को तेजी से ठीक करने में सहायक है। सहजन के कोमल पत्ते, डंठल, छाल, फली आर्युवेद में औषधि रूप है।

हरसिंगार काढ़ा (रात्रि)
घुटने दर्द से आराम पाने के लिए हरसिंगार काढ़ा

हरसिंगार काढ़ा , Harsingar Ka Kadha
सामग्री : 
  • 100 ग्राम हरसिंगार पत्ते 
  • 4 ग्राम चूना (पान में लगाया जाने वाला चूना) 
विधि :
हरसिंगार के पत्तों को ओखली में कूटकर 1 लीटर पानी में हल्की आंच में पकायें। 2 कप तक घटने पर आंच से उतार दें। छानकर काढ़ा निकाल लें। फिर थोड़ा सा चूना को अच्छे से घोलकर गर्म गर्म पीयें। हारसिंगार काढ़ा रात्रि भोजन से 30-35 मिनट पहले पीयें।
विशेष : हरसिंगार के सुगन्धित फूल पूजा, धार्मिक कार्यों में भी इस्तेमाल किये जाते हैं। हरसिंगार के फूल, पत्ते, छाल घुटनों दर्द और अन्य कई बीमारियों को ठीक करने में सहायक है।

सहजन काढ़ा और सिंगार काढ़ा घुटनें दर्द को तेजी से ठीक करने में सहायक है, साथ में गले में इंफेक्शन, खर्राश, कफ- बलगम, पाचन, रक्त विकार दूर करने में भी सहायक है। सहजन काढ़ा और सिंगार काढ़ा प्राचीन काल में बीमारियों विकारों को दूर करने के लिए वैद्य ज्ञाता हकीम काफी उपयोग करते थे। सहजन काढ़ा और सिंगार काढ़ा घुटनों दर्द के लिए असरदार रामबाण औषधि रूप है।