डिल सुआ डायबिटीज औषधि Dill Diabetes Remedies in Hindi Margdarsan, Health Tips News Hindi, Expert Advice, Enlighten, Pursuing Knowledge, Helping Guide डिल सुआ डायबिटीज औषधि Dill Diabetes Remedies in Hindi - Margdarsan, Health Tips News Hindi, Expert Advice, Enlighten, Pursuing Knowledge, Helping Guide

डिल सुआ डायबिटीज औषधि Dill Diabetes Remedies in Hindi

अगर डायबिटीज से दूर रहना है तो खूब खायें सुआ सब्जी, सलाद और पीये सूआ जूस, सुआ सौंफ के पौधे के तरह दिखते हैं। सुआ पत्तियां सब्जी, सलाद, जूस रूप में इस्तेमाल करें। सुआ को अलग - अलग नामों डिल, भाजी, शतपुष्प, शेपु, (Dill, Anethum Graveolens, Shatapushpa) से जाना जाता है। डिल (सुआ) में मोनोटरपेनस, वैसेनिन, काम्पेरोल, लाइमीन, कार्वोन, विटामिन ए, विटामिन सी, एनेथोफुरन, आयरन, फ्लावोनोइड, मैग्नीज, फोलेट, वेसेनिन, प्रोटीन, कार्बनिक योगिक मिनरलस मौजूद हैं। डायबिटीज मरीज के लिए डिल-सुआ सब्जी, कच्चा खाना खास फायदेमंद है। सुआ डायबिटीज में काॅर्टिकोस्टोराइड को प्रभावित करता है। जिससे सीरम लिपिड और इंसुलिन स्तर घटने बढ़ने के स्तर को नियंत्रण में रखता है। शुगर लेवन हमेशा एक सा रहता है। व्यक्ति शुगर अचानक घटने बढ़ने की समस्या से बचा रहता है।

डायबिटीज व्यक्ति के लिए डिल पत्तियां रामबाण दवा / सुआ पत्तियां डायबिटीज औषधि / Sua patti Diabetes ki Dawa / Dill leaves for Diabetes Patients / Dill Diabetes Remedies in Hindi

डिल सुआ डायबिटीज औषधि, Dill Diabetes Remedies in Hindi, sua patti diabetes ki dawa, सुआ की पत्तियां डायबिटीज की औषधि, dill leaves for diabetes

डायबिटीज में हाथ पांव शरीर सूजन में ग्लूकोकोर्टीकोइड थेरेपी से की जाती है। हाइपएलाइसेमिया के दौरान डायबिटीज मरीज की ग्लूकोज मात्रा ज्यादा बढ़ जाती है। एसी स्थिति में सुआ पत्तों का रस सेवन अचूक औषधि रूप में सहायक है। और इम्युनिटी सिस्टम मजबूत बनाने में सहायक है। शोध में डिल को डायबिटीज मरीज के खास फायदेमंद बताया गया है। और सुआ में लगभग 75 तरह के स्वास्थ्यवर्धक पौषक तत्व मिनरलस के कारण अचूक जडी बूटी माना गया है। 

डायबिटीज में डिल (सुआ) पत्तियां सेवन तरीके 
  • सोआ सीजन जाने पर सुआ को धूप में सुखाकर पाउडर बनाकर रख रखते हैं। गुनगुने पानी में 8-10 मिनट भिगो कर रखने के बाद जूस बनाकर सेवन कर सकते हैं, और फंक चबाकर खा सकते हैं।
  • सुआ पत्तों का जूस निकालकर उसमें नींबू, स्वाद अनुसार काला नमक मिलाकर और सुआ पत्तों को किचंन सब्जी, अण्डे, मछली, दाल, व्यंजन में किया जाता है। सुआ चरक आर्युवेद में खास जड़ी बूटी औषधि रूप है। डायबिटीज के अलावा सैकड़ों बीमारियां मिटाने सक्षम है।
  • सुआ की गंध - महक की वजह से नाकारे नहीं। सुआ सब्जी, कच्चा सलाद, जूस, किंचन में पकवान व्यंजन तैयार करने में अवश्य करें।