कलौंजी तेल से फायदे Kalonji Oil Benefits in Hindi Margdarsan, Health Tips News Hindi, Expert Advice, Enlighten, Pursuing Knowledge, Helping Guide कलौंजी तेल से फायदे Kalonji Oil Benefits in Hindi - Margdarsan, Health Tips News Hindi, Expert Advice, Enlighten, Pursuing Knowledge, Helping Guide

कलौंजी तेल से फायदे Kalonji Oil Benefits in Hindi

कलौंजी किसी संजीवनी से कम नहीं है। बहु उपयोगी कलौंजी सब्जी, दाल, अचार, फंक बनाने में इस्तेमाल की जाती है। कलौंजी को कई नामों निगेला, गन्गरैला, कालाजाजी, काला जीरा, मगरैला, रन्नुकोलेसी, स्माल फनेल, से पुकारा जाता है। कलौंजी एक तरह से अमृत औषधि रूप है। कलौंजी बीज के साथ साथ कलौंजी तेल भी शरीर को सैकड़ों फायदे पहुंचाने में एक तरह से प्राकृतिक एजेंट का काम करता है। 

कलैंजी में प्रोटीन, कैल्शियम, कार्बोहाइडे्ट, पोटेशियम, फाइबर, विटामिन-ए, विटामिन-बी 6, विटामिन-बी 12, विटामिन सी, की मात्रा मौजूद है। एंटीआक्सीडेंट, एंटीबैक्टीरियल, एंटीइंफ्लेमेन्टरी और एंटीसेप्टिक फायदेमंद गुण एक साथ मौजूद हैं। कलौंजी स्वाद में थोड़ी कड़वी जरूर है। परन्तु कलौंजी दाने और तेल शरीर को रोगमुक्त और स्वस्थ रखने में खास सहायक है। कलौंजी सेवन दूषित रक्त को साफ करने में फिल्टर का काम करता है। कलौंजी बीज और तेल इस्तेमाल प्राचीनकाल से ही सैकड़ों तरह के रोगों को ठीक करने में जानी मानी औषधि रूप है। कलौंजी तेल के फायदे विस्तार से निम्न प्रकार से हैं।

कलौंजी तेल से फायदे और उपयोग / कलौंजी तेल आयुर्वेदिक औषधि / Kalonji Oil Benefits in Hindi / Kalonji tel ke Fayde aur upyog / Kalonji tel ayurvedic aushadhi


कलौंजी तेल से फायदे , Kalonji Oil Benefits in Hindi, kalonji tel ke fayde, kalonji tel ke kya kya fayde hai, Kalonji oil Benefits for Health, कलौंजी तेल का उपयोग, kalonji tel ke upyog, kalonji tel ayurvedic aushadhi, कलौंजी तेल आयुर्वेदिक औषधि, kalonji tel ke gun, कलौंजी तेल के गुण

स्वस्थ मुलायम त्वचा के लिए कलौंजी

कलौंजी तेल और नारियल तेल को मिलाकर फटी त्वचा, झुर्रियों, फटी एडियों और रूखी त्वचा पर मालिश करने से त्वचा नेचुरली कोमल और सुन्दर बनाने में सहायक है। त्वचा पर कलौंजी तेल मालिश एंटीसेप्टिक और एंटीएजेंट का काम करता है। कलौंजी तेल कई तरह के मसाज ऑयल में इस्तेमाल किया जाते हैं।

जोड़ों गठिया के दर्द में कलौंजी तेल

शरीर में सूजन, दर्द, गांठ पड़ने पर कलौंजी तेल में लहसुन पका कर मालिश करना फायदेमंद है। बाद में कलौंजी पीसकर दर्द ग्रसित जगह पर लेप पट्टी करें। कलौंजी तेल मालिश और कलौंजी पट्टी जोड़ों, गठिया, सूजन दूर करने का अचूक आर्युवेदिक इलाज है।

कमर दर्द, सरदर्द तुरन्त दूर करे कलौंजी तेल

लम्बी समय से सरदर्द, कमर दर्द समस्या रहने पर तुरन्त कलौंजी तेल मालिश करना फायदेमंद है। कलौंजी तेल सरदर्द ठीक करने के साथ मस्तिष्क विकारों को दूर करने का अच्छा तेल है।

पेट के कीड़ी नष्ट करे कलौंजी तेल

पेट में कीड़े होने पर कलौंजी पीस कर सब्जी और दूध के साथ मात्र 2-3 बार सेवन करने से पेट के कीड़े खत्म हो जाते हैं। जल्दी फायदे के लिए कलौंजी तेल सब्जी, पकवान में इस्तेमाल करें।

चेहरे त्वचा के सफेद दाग धब्बे मिटाये कलौंजी तेल

चेहरे पर सफेद दाग, छाया, धब्बे पड़ने पर रोज कलौंजी तेल मालिश करें। फिर चेहरा साफ धो लें। बाद में गुलाबजल -गिलसरीन मिलाकर कर लगायें। चेहरे से दाग, धब्बे, झांइ मिटाने में कलौंजी तेल, गुलाब जल, गिलसरीन सहायक है।

बालों के लिए कलौंजी तेल

बालों के टूटने, झड़ने, रूसी समस्या ठीक करने में कलौंजी तेल मालिस खास सहायक है। और जड़ से टूटे झड़े बालों को दुबारा वापस पाने के लिए कलौंजी बीज पीसकर प्याज रस के साथ लगायें। कलौंजी बीज पाउडर और प्याज रस मिश्रण बालों पुनः उगाने में सहायक है। और सदाबहार स्वस्थ मजबूत बालों के लिए कलौंजी तेल से सप्ताह में 1-2 बार बालों पर अच्छे से मसाज करें।

याददास्त और मिरगी रोग में कलौंजी

भूलने की समस्या, मिर्गी रोग, दिमागी कमजोरी दूर करने के लिए कलौंजी तेल रोज खाने में इस्तेमाल करना फायदेमंद है।

डायबिटी में कलौंजी तेल

डायबिटीज मरीज के लिए कजौंली तेल प्राकृतिक इंसुलिन का काम करता है। और शर्करा लेबल नियंत्रण में रखने में सहायक है। कलौंजी तेल किंचन में खाने में इस्तेमाल करने से डायबिटीज होने की सम्भावनाऐं नहीं के बराबर रहती है।

पाईल्स में कलौंजी तेल

पाईल्स होने पर कलौंजी तेल को जल नारियल की राख के साथ मिलाकर सेवन करने से पाईल्स से मात्र 15-20 दिनों में आराम दिलाने में सहायक है। मिर्च, तीखा, जंकफूड, फास्टफूड, सोड़ा पेय, शराब, बीयर, तम्बाकू इत्यादि अन्हेल्दी चीजों से परहेज करें। घर का बना सात्विक भोजन ही करें।

खांसी कफ में कलौंजी तेल

आधा चम्मच कलौंजी तेल, आधा चम्मच अदरक रस को 1 चम्मच शहद के साथ मिलाकर सेवन करने से पुरानी से पुरानी खांसी कफ जड़ से मिटाने में सहायक है।

कैंसर ट्यूमर मिटाये कलौंजी तेल

कैंसर समस्या होने पर रोज कलौंजी दाने चबाकर खाना, और कलौंजी तेल सब्जी और जूस मिलाकर सेवन करना फायदेमंद है। कलौंजी कैंसर विकार में तेजी से सुधार करने में सहायक पाया गया है।

आंख रखे स्वस्थ

नजर कमजोर, मोतियाबिन्दु, आंखों से पानी आना, आंखें लाल और आंखे दर्द समस्याओं में कलौंजी तेल गाजर जूस के साथ रोज पीने से समस्त समस्याओं से जल्दी आराम मिलता है। कलौंजी आंखों के विकार मिटाने में सहायक है।

अस्थमा में कलौंजी तेल

अस्थमा मरीज के लिए कलौंजी रामबाणा दवा रूप है। कलौंजी दाने खायें। और रोज सुबह गुनगुने पानी में 1 चम्मच कलौंजी तेल और 1 चम्मच शहद सेवन करें। अस्थमा से छुटकारा दिलाने में कलौंजी तेल और शहद मिश्रण गुनगुने पानी के साथ सेवन करना फायदेमंद है।

वजन घटाये कलौंजी तेल

वजन मोटापा घटाने में कलौंजी तेल फायदेमंद है। 1 चम्मच कलौंजी तेल गुनगुने पानी के साथ सेवन करें।