वजन घटाने और मोटापा कम करने के नुस्खे vajan ghatane aur motapa kam karne ke nuskhe Margdarsan, Health Tips News Hindi, Expert Advice, Enlighten, Pursuing Knowledge, Helping Guide वजन घटाने और मोटापा कम करने के नुस्खे vajan ghatane aur motapa kam karne ke nuskhe - Margdarsan, Health Tips News Hindi, Expert Advice, Enlighten, Pursuing Knowledge, Helping Guide

वजन घटाने और मोटापा कम करने के नुस्खे vajan ghatane aur motapa kam karne ke nuskhe

शरीर को रोगमुक्त - निरोग स्वस्थ रखने के लिए फिट और चुस्त रहना अति जरूरी हो जाता है। मोटापा होना कोई बुरी बात नहीं। परन्तु हिसाब से ज्यादा शरीर में मोटापा बढ़ना और चर्बी जमना रोगों की ओर संकेत करता है। मोटापा, आलस्य शरीर में कई तरह के रोग आसानी से पनपने का भय रहता है। शरीर में मोटापा, वजन, बढ़ने पर व्यक्ति लाचार महसूस करता है। फालतू चर्बी मोटापा वजन को घटाने के लिए तरह-तरह की तरह से प्रयत्न करता है। 

ज्यादात्तर व्यक्ति मोटापा वजन शरीर में जमा फालतू चर्बी घटाने में फेल हो जाते हैं। मोटापा मोटापा वजन बढ़ने का मुख्य कारण खान-पान, दिनचर्या और जीवन शैली पर निर्भर करता है। हम आपको 50 खास तरीके मोटापा, वजन, शरीर में जमा फालतू चर्बी घटाने वाले बता रहे हैं। जिससे शरीर पूर्ण रूप से चुस्त, फुर्तीला और रोगमुक्त बना रहे। विशेष वेट लॉस टिप्स विस्तार से दियें गयें। जिससे मोटापा वजन को आसानी से नियंत्रण और घटाया जा सकता है।

वजन घटाने और मोटापा कम करने के नुस्खे , वेट लॉस टिप्स Weight loss and obesity reduce tips / vajan ghatane aur motapa kam karne ke nuskhe, Weight loss and obesity reduce tips


मोटापा वजन घटाने के उपाय, Weight Loss Tips in Hindi, motapa vajan ghatane ke upay, Motapa Kam Karne Ke Upay, vajan kam karne ke upay patle hone ke upay, मोटापा घटाने के घरेलू उपाय, motapa ghatane ke gharelu upay, Weight Loss Tips That Are Actually Evidence Based, How to Lose Weight Fast, तेजी से वजन कैसे घटायें, weight loss ke tarike, वेट लॉस के तरीके,  वेट लॉस टिप्स

वजन मोटापा घटने में सहायक खान पान उत्तम सुझाव 
  • मोटापा वजन चर्बी बढने का एक कारण ज्यादा मात्रा में पौष्टिक भोजन खाना है। भोजन सीमित मात्रा में खाये। पेट भर खाना ना खायें।
  • खाना भूख की अपेक्षा कम खायें। जितनी भूख है, उसका 25 प्रतिशत कम खायें।
  • ब्रेकफास्ट, लंच, डिनर करने का एक समय सीमा बना लें। हमेश एक ही वक्त पर भोजन करें।
  • सुबह ब्रेकफास्ट हेबी खायें। ब्रेकफास्ट में दूध, फल, लाइट मात्रा में अनाज लें। लंच पौष्टिक आहार सीमित मात्रा में लें। रात्रि भोजन सीमित, कम मात्रा में खायें। रात्रि भोजन ज्यादा खाने से मोटापा, वजन, चर्बी तेजी से बढ़ती है। रात्रि की अपेक्षा व्यक्ति दिन में शरीरिक क्रियाकलाप ज्यादा करता है।
  • खाने में तेलीय, तली भुनी, तीखे चीजों से परहेज करें। तीखे मसाले, तली भुनी चीजों से प्यास जल्दी लगती है। जोकि अपचन समस्या, मोटापा, वजन बढ़ाते हैं।
  • आलू से बने पकवान, मैदा से बने पकवान और चावल व्यजंन खाना बंद कर दें। मोटापा वजन बढ़ाने में आलू, चावल पकवान सहायक हैं। आलू चावल से परहेज करें। चावल खाने का ज्यादा मन करे तो, चावल बनाते समय मांड़ अलग निकालकर खाया जा सकता है।
  • जंक फूड़, फास्टफूड, सनैक्स, सोड़ा पेय, बाहर का खाने से बचें। जंक फूड़ फास्टफूड बाहर का खाना सही तरह से पाचता नहीं है। इस तरह का खाना प्लास्टिक फूड़ श्रेणी में आता है। पाचन गड़बड़बड़ी होना भी एक तरह से मोटापा वजन बढ़ने का कारण है।
  • खाना बारीक चबाकर खायें। बारीक चबाकर खाने से भोजन पूर्णरूप से लार मिलकर पाचन क्रिया दुरूस्त रहती है। और साथ में भोजन से शरीर को सम्पूर्ण पौषक तत्व मिल जाते हैं। खाना हमेशा बारीक चबाकर खायें। जल्दीबाजी में खाना न खायें। सही तरीके से भोजन करें।
  • आधा पका खाने से बचें। पका भोजन ही खायें। अधपका भोजन अपचन, मोटाप, एलर्जी, तरह -तरह के विकार बढ़ने का एक कारण है।
  • अनाज सीमित मात्रा में खायें और फल, फल जूस, हरी सब्जियां, नटस, दूध प्र्याप्त मात्रा में सेवन करें।
  • सलाद में नींबू निचैंड़कर और काला नमक मिलाकर खायें।
  • भोजन करते वक्त छोटी थाली, प्लेटस का इस्तेमाल करें। कम सीमित मात्रा में भोजन थाली, प्लेटस में परोसें। छोटी थाली, प्लेटस काफी हद तक ज्यादा खाने से बचाने में सहायक है।
  • खाना खाते वक्त नीले रंग की प्लेटस, चम्मच, बर्तन का इस्तेमाल करें। एक शोध में नीला रंग भोजन करते समय भूख नियंत्रण करने में सहायक माना गया है।
  • भोजन करते समय पानी नहीं पीयें। खाने साथ पानी पीना भी एक तरह से पाचनक्रिया को खराब करता है। जिससे मोटापा बढाने का भय बना रहता है।
  • पेट भर खाने के वजाय खाना थोड़ा-थोड़ा सीमित मात्रा में खायें। उदाहरण के लिए अगर भूख 5 रोटी की है, तो 2-2-1 क्रमांक से बांट कर खायें। एक साफ परपूर भोजन खाने से बचें।
  • भूख लगने पर ही खाना खायें। बिना भूख के, और पेट भरा लगने पर खाने से परहेज करें। बिना भूख पर खाना भी एक तरह से मोटापा वजन बढ़ने का कारण है।
  • खाने में रोज अलग-अलग तरह की चीजे बदलें। रोज एक ही चीज नहीं खायें। रोज डाईट में बदलाव शरीर को पोष्टिकता तेजी से पहुंचाने में सहायक है।
  • खाना बनाते समय किचंन में प्राकृतिक स्वास्थ्यवर्धक मसालें हर्बल लहसुन, अदरक, लौंग, इलाइची, काली मिर्च, नींबू, हरा धनियां, दालचीनी, हींग, केशर आदि का इस्तेमाल करें।
  • किचंन में खाने बनाते वक्त तेल, घी, शक्कर का इस्तेमाल कम करें। तेल, घी, मीठा खाना भी मोटापा, वजन, चर्बी बढ़ने का एक कारण है।
  • फूलगोभी, मूली, अरबी इत्यादि जड़ वाली सब्जियों को उबालकर या फिर गर्म पानी से अच्छे से साफ कर, धोकर ही इस्तेमाल करें।

  • रोज रूटीन में खाने से 10 मिनट पहले 1 गिलास पानी पीयें। खाने से पहले पानी पीने से पाचन क्रिया दुरूस्त रहती है। पानी खाने पचाने में खास सहायक है।
  • प्रतिदिन सुबह उठकर 1 गिलास पानी पीयें। नित्य प्रातःकाल पानी पीने से पेट विकार आसानी से मिटाने में सक्षम है। और पेट साफ रहता है। सर्दी मौसम में सुबह उठकर गुनगुना पानी पीना फायदेमंद है।
  • खाने के उपरांत आधे चम्मच से कम अजवाइन रोज चबाकर खायें। और अजवाइन को रात को भिगों कर रखें, सुबह उठकर खानी पेट अजवाइन मसल कर चबाकर खायें। पेट गैस, कब्ज, एसिडिटी रोकने में अजवाइन खास है। जोकि मोटापा वजन घटाने में खास सहायक है।
  • वजन, मोटापा घटाने वाले आर्युवेदिक पेय रूटीन में शामिल करें। कई तरह के आर्युवेदिक औषधि पेय तेजी से वजन मोटापा घटाने सहायक है।
  • सप्ताहिक, मासिक उपवास रखना भी पेट पाचन दुरूस्त, मोटापा घटाने, पेट गन्दगी साफ करने का अच्छा तरीका है। साधारण चाय की जगह वेटलाॅस चाय और मसाला चाय पीयें।
  • रात्रि सोने से 10 मिनट पहले एक गिलास जरूर पीयें। इससे पाचन क्रिया दुरूस्त और नींद अच्छी आती है।
  • भोजन के तुरन्त बाद चाय, काॅफी, सोड़ा पेय सेवन करने से परहेज करें। खाने के तुरन्त बाद पेय पदार्थ पाचनक्रिया और भोजन के पौष्टिक गुणों का काफी हद तक नष्ट करता है।
  • नाश्ते में दूध, फल, अनाज हेल्दी फूडस शामिल करें। दोपहर और रात्रि खाने में सलाद, अनाज, फल हल्का खाना शामिल करें।
  • दिन भर खाने का हिसाब रखें। कितना खाया गया, किन-किन चीजों से परहेज रखना है, कब-कब खाना है। इत्यादि संतुलित पौष्टिक आहारों का सही डाईट प्लान बनायें। वजन मोटापा घटाने के लिए साप्ताहिक डाईट प्लान बनायें। डाईट के हिसाब चले।
  • अण्डा, मछली, मीट, सोया खाद्यपदार्थ, प्रोटीन, वसा युक्त खाद्यपदार्थ सीमित मात्रा में खायें। ज्यादा फैट युक्त चीजें खाने से बचें। वजन मोटापा बढ़ने का एक कारण नाॅजवेज, फैट फूड्स है।
  • शराब, वीयर, नशीले मादक पदार्थ वजन मोटापा बढ़ने का एक कारण होती हैं। नशीली चीजें स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है।
  • सप्ताह में शरीर का वजन करवायें। सप्ताहिक वजन जांच से व्यक्ति वजन मोटापा नियंत्रण की सही स्थिति का पता आसानी चल जाता है। वजन सुबह खाली पेट, बिना कुछ खाये पीये ही करवायें।

वजन मोटापा घटाने वाले रूटीन में क्या शामिल करें

  • रोज सुबह शाम 30-35 मिनट सैर करें। प्रात़कालीन सैर करने से शरीर दिमाग चुस्त फुर्तीला बनाये रखने में खास सक्षम है। रोज सुबह शाम सैर करने से यूरिक एसिड़, पाचनक्रिया दुरूस्त से लेकर तेजी से वजन मोटापा घटाने में खास सहायक है।
  • ज्यादा से ज्यादा पैदल चलने की प्रक्रिया रूटीन में शामिल करें। लिफ्ट, कार, स्कूटर, वाहन का इस्तेमाल कम करें।
  • चलना फिरने की आदत बनायें। आॅफिस, घर पर खाने के बाद लगभग रोज 1 किमी चलने फिरने की आदत बनायें। भोजन के तुरन्त बाद बैठने से बचें।
  • रोज रात्रि सोने का समय सारणी बनायें। और 7-8 घण्टे प्यारी नींद लेना काफी हद तक मोटापा वजन घटाने में सहायक है। प्र्याप्त नींद लेने से पाचन, दिमाग, किड़नी, दिल दुरूस्त रखने में खास सहायक है।
  • रोज सीढ़ियां, किंचन, घर की छत में रूटीन में चले। रोज रूटीन में सीढ़ी चढ़ना, घर की छत, घर के अन्दर चलना फिरना भी काफी हद तक मोटापा वजन घटाने में सहायक है।
  • म्यूजिक, गानों की धुन पर डांस करें। हल्का डांस करना, नाचना भी वजन मोटापा घटाने का अच्छा माध्यम है। म्यूजिक सुनने के साथ डान्स करने से मन, चित, शरीर चुस्त दुरूस्त रहता है।
  • बच्चों के साथ खेलना, उछलकूद करना एक तरह से वजन, मोटापा घटाने में सहायक है। बच्चों के साथ खेलने से बच्चे खुश, प्यार प्रेम, और शरीर स्वस्थ रखने का अच्छा गुप्त तरीका है।
  • जिम में पसीना बहाना, रोज सुबह शाम एक्साईज करना, दौड़भाग जैसे बर्कआउट क्रियाकलाप मोटापा, वजन, शरीर में जमी अतिरिक्त चर्बी घटाने मेंखास सहायक है।
  • नित्य योगा, आसन, ध्यान, व्यायाम करना अच्छे स्वास्थ्य की पहचान है। मोटाप, वजन, रोगमुक्त, स्वस्थ रखने में योग, आसन, व्यायाम खास मददगार है।

  • जिम, दौड़भाग, एक्साईज, योगा, आसान के तुरन्त बाद पानी नहीं पीयें। वर्कआउट, योना व्यायाम के शीघ्र बाद पानी पीने से मोटापा वजन नियत्रंण सम्भव नहीं है।
  • वजन, मोटापा, शरीर में जमा अतिरिक्त चर्बी घटाने के लिए रोज 20-25 मिनट रस्सीकूद करें। रस्सीकूद करने से मोटापा वजन घटने के साथ-साथ सम्पूर्ण शरीर स्वस्थ निरोग बनाने में खास सहायक है। रस्सीकूद कई तरह के रोग को जड़ से नष्ट करने में सक्षम है।
  • वजन, मोटापा तेजी से घटाने के लिए वर्कआउट तरीकों से पसीना बहायें। पसीना बहने से मोटापा, वजन नियत्रंण के साथ रक्त से विषाक्त बाहर निकलने में मददगार है।
  • सीधे खडे होकर दानों पावों के मध्य लगभग 2 फीट की जगह बनायें। फिर झुक कर फुटबाॅल को पावों के बीच ले जायें। इसी तरह से बार-बार झुककर फुटबाॅल को दानों पावों के बीच ले जायें। इससे पेट पर सीधे असर पड़ता है। मोटापा वजन तेजी से घटाने का यह अच्छा फुटबाॅल एक्साईज है।
  • बाजर में खाने-पीने की चीजों को देखकर मन पर नियत्रंण रखें। मन सन्तुलन से काफी हद तक फालतू खाने की आदतों से बचें।
  • पानी खूब पीयें। रोज रूटीन में कम से कम 3-4 लीटर पानी पीयें। पानी शरीर से विषाक्त निकालने में सहायक है। मोटापा वजन नियत्रंण करने का पानी अच्छा तरीका है।
  • जब कभी तेलीय, वसा वाली चीजें खायें। बाद में गर्म गुनगुना पानी पीना ना भूलें। गर्म पानी पीने से गला साफ और पाचन के लिए फायदेमंद है।
  • रोज सुबह उठकर लहसुन की 3-4 कलियां खायें। लहसुन अपचन, गैस, कब्ज, जैसे पेट विकारों को दुरूस्त करने का अच्छा तरीका है। मोटापा वजन बढ़ने का एक कारण गैस, कब्ज, अपचन होता है।
  • वजन मोटापा नियत्रंण करने में अजवाइन खास सहायक है। अजवाइन को चबाकर खायें। अजवाइन रात्रि भिगोकर अजवाइन का पानी छानकर पीयें। जल्दी फायदे के लिए अजवाइन पानी में नींबू रस मिलाकर बिना शक्कर के साथ सेवन करें।
उपरोक्त बताये मोटापा वजन घटाने के तरीकों को दैनिक दिनचर्या में शामिल करें। बताये वेट लॉस टिप्स शरीर को स्वस्थ, चुस्त, रोगमुक्त रखने में खास फायदेमंद है। 

weight loss tips know how to easily lose 1 kg weight in one day, 1 दिन में आसानी से घटेगा 1 किलो वजन, करें बस ये काम, Home Remedies for Obesity, मोटापा कम करने (वजन घटाने) के असरदार घरेलू उपाय, मोटापा क्या है? (What is Obesity?), मोटे होने का कारण  (Obesity Causes), मोटे होने का लक्षण (Obesity Symptoms), वजन कम करने (मोटापा घटाने) के लिए घरेलू नुस्खे (Home Remedies for Obesity (Weight loss) in Hindi), Home Remedies for Weight loss in Hindi