गठिया जोड़ों के दर्द से राहत के लिए 7 युक्तियां Best 7 Tips for Joint Pain Relief in Hindi Margdarsan, Health Tips News Hindi, Expert Advice, Enlighten, Pursuing Knowledge, Helping Guide गठिया जोड़ों के दर्द से राहत के लिए 7 युक्तियां Best 7 Tips for Joint Pain Relief in Hindi - Margdarsan, Health Tips News Hindi, Expert Advice, Enlighten, Pursuing Knowledge, Helping Guide

गठिया जोड़ों के दर्द से राहत के लिए 7 युक्तियां Best 7 Tips for Joint Pain Relief in Hindi

गठिया रोग में दर्द से तुरन्त राहत वाले कुछ खास आर्युवेदिक अजमाये तरीकों से गठिया दर्द निवारण के साथ-साथ बढ़े यूरिक एसिड को जड़ से नष्ट किया जा सकता है। आर्युवेद द्धारा गठिया जोड़ों के दर्द का रोग समभ्व है। जोकि निम्न प्रकार से है।

जोड़ों के दर्द गठिया रोग से छुटकारे के लिए अजमायें ये खास 7 तरीके / जोड़ो के दर्द इलाज / ARTHRITIS, JOINT PAIN RELIEF / JODO KA DARD ILAJ

गठिया जोड़ों के दर्द से राहत के लिए 7 युक्तियां, Best 7 Tips for Joint Pain Relief in Hindi, Ayurvedic Remedies for Joint and Knee Pain, Joint Pain Cure Remedies At Home, Home Remedies To Treat Joint Pain, jodo ka dard ilaj, Joint Pain Treatment, jodo ka dard ka ilaj, जोड़ो के दर्द इलाज

शहद दालचीनी 
1 चम्मच शहद और 1 चम्मच दालचीनी पाउडर 6-7 घण्टे पहले घोलकर रख दें। 7 घण्टे में औषधि तैयार हो जाती है। फिर सेवन करें। इसी तरह से रोज सुबह शाम 40-50 दिनों तक सेवन करने से गठिया जल्दी ठीक करने में सक्षम है।

मेथी और काली मिर्च 
50 ग्राम मेथी दानों और 5 ग्राम काली मिर्च को बारीक पीसकर पाउडर बनाकर कांच की शीशी में रख लें। रोज एक चम्मच मिश्रण पाउडर उबाल कर पीने से गठिया जोड़ों दर्द से जल्दी छुटकारा मिलता है।

लहसुन दूध
10-12 लहसुन कलियों को बारीक पीसकर 1 लीटर दूध में धीमी आंच में 8-10 मिनट उबालें। प्रतिदिन सुबह शाम सेवन करें। लहसुन दूध औषधि गठिया, यूरिक एसिड, रक्त विकार रोगों को ठीक करने में सक्षम है।

आलू रस-दही-लहसुन
आधा कप आलू रस को आधे कप दही में मिलाकर उसमें 6-7 लहसुन कलियों बारीक काटा कर मिलाकर रोज सुबह बिना कुछ खाये पीये मिश्रण औषधि खाने से गठिया जोड़ों के दर्द जल्दी ठीक होता है।

अचूक तेल मालिश 
आधा कटोरी सरसों तेल, तिल तेल, अरण्डी तेल, जैतून तेल को मिश्रण कर उसमें 20-25 हलसुन कलियां, 4-5 काली मिर्च, 5-4 कोमल बेल पत्र, सभी को बारीक कूट कर डालें। 10 मिनट तक हल्की आंच में जलनें तक पकायें। हल्का ठंड़ा गुनगुना होने पर 1 कूपर टुकड़ा मिलाकर गठिया ग्रसित जोड़ों अंगों पर सुबह और रात सोने से पहले लगातार 10 मिनट तक मालिश करवायें। लगातार 30-40 दिनों तक मालिस करें। यह आर्युवेदिक अचूक तेल मालिश गठिया को जड़ से ठीक करने में सक्षम पाया गया है।

हरी सब्जियां सेवन और तेल 
खाने में रोज हरी पत्तेदार सब्जियां खायें। सब्जियां बनाने में थोड़ा सा अरण्डी तेल इस्तेमाल करें। या फिर 1 चम्मच अरण्डी तेल रोज सुबह उठकर खाली पेट पीयें। 1 घण्टे बाद कुछ खाये पीयें। हरी पत्तेदार सब्जियों और अरण्डी तेल गठिया दर्द निवारण में सहायक है।

गठिया में अचूक औषधि जूस
1 गिलास गाजर जूस में आधा चम्मच अदरक पाउडर, आधा नींबू का रस, सैंधा नमक, चुटकी भर जीरा पाउडर-कालीमिर्च पाउडर-हींग मिश्रण, आधा चम्मच जैतून तेल अच्छे से मिलाकर पीने से गठिया जल्दी ठीक होता है।