मखाने खाने के स्वास्थ्यवर्धक फायदे Health Benefits of Eating Makhana in Hindi Margdarsan, Health Tips News Hindi, Expert Advice, Enlighten, Pursuing Knowledge, Helping Guide मखाने खाने के स्वास्थ्यवर्धक फायदे Health Benefits of Eating Makhana in Hindi - Margdarsan, Health Tips News Hindi, Expert Advice, Enlighten, Pursuing Knowledge, Helping Guide

मखाने खाने के स्वास्थ्यवर्धक फायदे Health Benefits of Eating Makhana in Hindi


पौष्टिक गुणों से भरपूर मखाना (मखाने) शरीर के लिए विज्ञान शोध द्धारा फायदेमंद साबित हो चुका है। मखाने कमल फूल के बीज, एशियन लिली बीज, फूल मखाने, फोक्सनट, Fox Nut, Euryale Ferox, Prickly Water Lily आदि से भी जाना जाता है। 

मखाने में काब्र्रोहाडेट, प्रोटीन, फास्फोरस, आयरन, केरोटीन, निकोटिक, कैल्शियम, विटामिन बी 1, वसा एवं खनिज तत्व भरपूर मात्रा में मौजूद हैं। मखाने एक तरह से प्राकृतिक एन्टीआक्सीडेन्ट है। मखाने पाचन तंत्र से लेकर किड़नी विकारों को ठीक करने में सक्षम है। मखाने लगभग विश्व भर में पाया जाता है। भारत, श्रीलंका, कोरिया, जापान, रूस, चीन में मखाने बहुमात्रा में उत्पाद होता है। मखाने से कई तरह की दवाईयां बनाई जाती है।

मखाने खाने के स्वास्थ्यवर्धक फायदे / मखाना के फायदे / Health Benefits of Eating Makhana in Hindi /  Makhana Khane ke Fayde 

मखाने खाने के स्वास्थ्यवर्धक फायदे , Health Benefits of Eating Makhana in Hindi, Makhane Is Good For Health, मखाना के फायदे, makhana health benefits, makhana khane ke fayde, मखाना के पोषक तत्व

मखाने लिली कमल फूल का बीज है। मखाना पानी तालाबों में पाई जाती है। विज्ञान की मद्दद्द से आज मखाने की खेती की जा रही है। मखाने की खेती तालाब में 3 फीट पानी में की जाती है। पानी के तल में आधा फीट मिट्टी डालकर बीज रोपाई की जातें हैं। बीज अंकुरित होकर डंठल पीनी से बार आकर चोड़े पत्ते गोलाकर रूप लेता है। फिर फूल और बीज कांटेदार स्पन्जी फल लगते हैं। जिनके अन्दर बीज बंद होता है। मखाने गटठा बीज सरोबर से निकालने के बाद दानों को अलग कर तेज धूप में सुखाया जाता है। 

मखाने दाने दिखनें ब्राउन डार्क, काले रंग और गेहुंआ लाल, काले रंग के होते हैं। एक बीज गुच्छे के अन्दर लगभग 10-15 दानें मौजूद होते हैं। मखाने के दानों का आकार लगभग मटर के बराबर आंका गया है। मखाने को लोहे की कड़ाई में रेत के साथ भूना जाता है। जैसे मक्का से पापर्कान, धान से खील बनाई जाती है। मखाने भूनने पर फटने से अन्दर से सफेद मखाना बाहर आ जाता है। और रगड़ साफ कर तैयार मखाने को तुरन्त पैकट में बंद कर दिया जाता है। इससे मखाने की नरम, कोमलता, ताजापन देर तक बनी रहती है। 

प्राकृतिक एन्टीआक्सीडेन्ट 
मखाने में एन्टीआक्सीडेन्ट गुण मौजूद है। मखाने संक्रामण वायरल बीमारियों को रोकन में सक्षम है। मखाने रोगप्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है। मखाने से कई तरह की दवाईयां बनाई जा रही है।

रक्त कोशिकओं ऊतक सुधारे 
रक्त कोशिकाओं ऊतकों को सुधार और दुरूस्त करने में मखाने सक्षम है। मखाने में एन्टीएजिन्ग गुण मौजूद है। त्वचा रक्त सेल्स को खराब होने से बचाता है और त्वचा में होने वाले झुर्रियों को दूर रखनें में सहायक है। जिससे शरीर में जल्दी बुढ़ापा और रूखापन नहीं आता।

किड़नी दिल बीमारियां दूर करे मखाने 
मखाने खाने से किड़नी स्वस्थ रहती है। मखाने में प्राकृतिक काब्र्रोहाडेट, फास्फोरस, प्रोटीन, केरोटीन एक साथ मौजूद है। और शर्करा मात्रा नहीं के बराबर पाई जाती है। जोकि किड़नी और दिल मरीज के लिए अति फायदेमंद है। किड़नी शरीर का अभिन्न अंग है। किड़नी एक तरह से रक्त फिल्टर का काम करती है। मखाने खाने से किड़नी और दिल दोनो स्वस्थ और सुचारू रहते हैं।

गठिया जोड़ों के दर्द अर्थराइटिस में मखाने 
शरीर के जोड़ों दर्द, गठिया, अर्थराइटिस, घुटने दर्द आदि शरीर के किसी भी अंग में दर्द होने पर मखाने खाने से दर्द से आराम मिलता है। जिन लोगों को लम्बे समय से दर्द है, वें मखाने को हलसुन, अदरक, हल्दी, हींग, काला नमक से बनी मिश्रित चटनी के साथ खाने से तेज से दर्द विकारों मे तेजी से सुधार होता है।

डायबिटीज में इन्सुलिन मखाने 
डायबिटीज मरीज को मखाने जरूर खाने चाहिए। शर्करा लेवल को नियत्रंण करने में मखाने सक्षम है। डायबिटीज मरीज के लिए मखाने इन्सुलिन का काम करता है। डायबिटीज मरीज को रोज 5-6 दानें मखाने के जरूर सेवन करने चाहिए। भुने चने और मखाने मिश्रण कर खाना डायबिटीज मरीज के लिए पौष्टिक और निरोग जीवनदायक है।

मस्तिष्क शान्ति में मखाने 
चिन्ता फिक्र अशान्ति होने पर रोज दूध के साथ मखाने भिगों कर खाने से मस्तिष्क चिन्तामुक्त होकर सुचारू रहता है। मखाने सेवन से नींद अच्छी आती है। अनिन्द्रा की समस्या शीघ्र दूर हो जाती है।

ऊर्जावान चुस्त बनाये मखाने 
शरीर कमजोर दुबला पतला होने पर रोज मखाने सुबह दही में भिगो का सेवन करें। और रात को मखाने दूध में भिगो कर सोने से 30 पहले सेवन करें। इससे शरीर से तेजी से कमजोरी दूर होती है।

सेक्स समस्याओं में अचूद दवा 
अंदुरूनी कमी दूर करने और योग शक्ति बढ़ाने में मखाने अति सक्षम है।

पाचन शक्ति बढ़ाने मखाने 
मखाने खाने से पाचन तंत्र दुरूस्त रहता है। पेट समस्यायें गैस, एसिडिटी होने पर रोज सुबह खाली पेट मखाने दानों को अजाइन के साथ खाने से गैस एसिडिटी से शीघ्र आराम छुटकारा मिलता है।

मखाने बच्चे बड़ों सभी को सेवन करने चाहिए। मखाने में सैकड़ों औषधीय गुण विद्यमान हैं। जोकि तरह तरह के रोगों सक्रामण, कमजोरियों को दूर करने में सक्षम है।