कैंसर से बचने के आसान तरीके Cancer Prevention Tips in Hindi Margdarsan, Health Tips News Hindi, Expert Advice, Enlighten, Pursuing Knowledge, Helping Guide कैंसर से बचने के आसान तरीके Cancer Prevention Tips in Hindi - Margdarsan, Health Tips News Hindi, Expert Advice, Enlighten, Pursuing Knowledge, Helping Guide

कैंसर से बचने के आसान तरीके Cancer Prevention Tips in Hindi

कैंसर गम्भीर बीमारी है ये सभी जानते परन्तु कैंसर होने से कैसे बचा जाय ये बात बहुत कम लोग जानते हैं। कुछ खास बातें अपने दैनिक दिनचर्या में शामिल कर लें, तो कैंसर जैसे कई भयानक बीमारियों से हमेशा दूर रहा जा सकता है। निम्नलिखत कैंसर रोकथाप तरीके अपनायें। शरीर को निरोग स्वस्थ रखें।

स्वस्थ निरोग जीने के खास तरीके / Reduce Your Risk of Cancer / Cancer Prevention Tips / cancer ki roktham ke upay

Cancer-Prevention-Tips-in-Hindi, Cancer-Prevention-Hindi, cancer-rokne-ke-upay, Cancer- Prevention- Tips, कैंसर - रोकथाम, cancer ki roktham ke upay
  • व्यक्ति को भी साल में 1-2 बार शरीर की जांच अवश्य करवायें। जैसे रक्त, किड़नी, पेट, महिलाओं में गर्भाशय, फेफड़े जांच करवायें। जांच से रक्त और शरीर अंगों की सही स्वास्थ्य जानकारी स्थिति पता चल जाती है।
  • शरीर पर घाव जख्म होने पर तुरन्त ईलाज करवायें। ज्यादा देर तक शरीर में जख्म, घाव, इन्फेक्शन को नहीं रहने दें। हल्का घाव, इन्फेक्शन भी कैंसर बन सकता है। जख्म, इन्फेक्शन होने पर तुरन्त उपचार करवायें।
  • सुबह उठकर घर के आगे हरी घास आंगन में, पार्क में जमी हरी घास के ऊपर नंगे पाव 10-15 मिनट नंगे पावं चलें। इससे शरीर का रक्त संचार तेज होता है और शरीर के अंग अंग में रक्त संचार तेज हो जाता है।
  • शिशु वाली महिलाओं को बच्चों को लगातार 6 से लेकर 8 महीने तक बच्चे को स्तनपान कराते रहना चाहिए। इससे बच्चे को सही पौषण के साथ साथ स्तन स्राव रक्त कोशिकाऐं नसों पर होने वाले कैंसर लक्षण मिट जाते हैं।
  • किचन में दालचीनी, कलौंजी, इलाईची, अदरक, हलसुन, अजाइन, सौंफ आदि आर्युवेदिक मसालों का प्रयोग खाने में अवश्य करें। कलौंजी दालचीनी अदरक सौंठ का पाउडर बनाकर किंचन में जरूर रखें। सप्ताह में 1-2 बार चाय के साथ या दूध के साथ अवश्य सेवन करे।
  • संतुलित पौष्टिक आहार डाईट चार्ट बनायें। फल, नटस्, हरी सब्जियां, दलहन अनाज खाद्य पदार्थ सेवन स्वस्थ शरीर की पहचान है। जंकफूड, सोड़ा ठंड़ा पेय वाहर के खाने से परहेज करें। जंकफूड भले खाने में अच्छा लगे, परन्तु कड़वा सच यह है कि जंकफूड, सोड़ा ठंड़ा सही तरह से पेट में पचता नहीं है बल्कि सड़ता है। जिससे तरह तरह की बीमारियां गैस, एसिडिटी, फूडपाइजन, कब्ज, पेट भारी लगना, भूख न लगना, पेट फूलना आदि कई तरह के लक्षण होते हैं। जंकफूड, सोड़ा पेय धीरे धीरे शरीर को रोग ग्रस्त करता है।
  • शरीर को चुस्त फुर्तीला रखें, आलस्य न आने दे। आलस्य इन्सान का सबसे बड़ा शत्रु है। शरीर में गतिविधियां लगातार करें, रोज टहले, चले फिरे, पैदल ज्यादा चलने की कोशिश करें। रोज सुबह शाम सैर करना अच्छे स्वास्थ्य की पहचान है।
  • तम्बाकू, गुटका, जर्दा, शराब, मादक नशीली मादक वस्तुओं से दूर रहें। नशीली वस्तु सेवन कैंसर को ज्यादा बढ़ावा देती है। सर्वे अनुसार विश्व में नशीलें पदार्थों के सेवन से 80.3 प्रतिशत कैंसर / Alcohol Cancer होता है।
  • शरीर का वजन नियत्रंण में रखें, हर महीने शरीर का वजन जांचे। मोटापा बढ़ने पर बीमारियां स्वतः शरीर में पैदा हो जाती है। मोटापा बीमारियों का घर है। इसलिए शरीर को फिट रखें।
  • रोज सुबह शाम 30-40 मिनट योगा व्यायाम आसन करें। योगा व्यायाम आसन शरीर की जटिलताओं को ठीक करने में सक्षम है। योगा व्यायाम शरीर को चुस्त फुर्तीला और ऊर्जावान,रक्त संचार सुचारू बनाये रखता है जिससे शरीर के साथ साथ मतिष्क भी दिन भर सक्रीय सकारात्मक रहता है।
  • अधिक प्लास्टिक इस्तेमाल से बचें। प्लास्टिक बतनों में खाने पीने की चीजें गर्म नहीं करें। प्लास्टिक और अन्य तरह से पैक्कड सामग्री सेवन से बचें। प्लास्टिक स्वास्थ के लिए हानिकारक है।