नींबू का उपयोग Nimbu ka upyog, Lemon uses Margdarsan, Health Tips News Hindi, Expert Advice, Enlighten, Pursuing Knowledge, Helping Guide नींबू का उपयोग Nimbu ka upyog, Lemon uses - Margdarsan, Health Tips News Hindi, Expert Advice, Enlighten, Pursuing Knowledge, Helping Guide

नींबू का उपयोग Nimbu ka upyog, Lemon uses

नींबू विटामिन मिनरलस का भरपूर भण्डार है। नींबू रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है। नींबू में विटामिन सी, विटामिन ए और विटामिन बी, प्रोटीन, क्लोरीन, पोटेशियम, सोडियम, आयरन, मैग्नीशियम, वसा प्राकृतिक स्वास्थ्यवर्धक गुण विद्यमान हैं। नींबू को प्राकृतिक एन्टीऑक्सीडेंट माना जाता है। नींबू रोगों, संक्रामण, पेट की बीमारियों विकारों रोकथाम में सक्षम है।

नींबू का उपयोग Nimbu ka Upyog, Lemon Uses


नींबू का उपयोग Nimbu ka upyog, Lemon uses

  • पाचन तंत्र दुरूस्त करने और पेट दर्द मिटाने के लिए गुनगुने पानी में 1 नींबू रस और आधा चम्मच अजवाइन मिश्रण पेय सेवन करने से पेट दर्द और पाचन सम्बन्धित समस्याऐं तुरन्त ठीक हो जाती है।
  • गर्मी लू से बचने के लिए नींबू और पुदीना रस पानी मिलाकर पीने से गर्मी लू से निजात मिलता है।
  • कब्ज एसिडिटी दूर करने के लिए रोज रात को सोने से 10 मिनट पहले नींबू पानी बिना शक्कर के साथ सेवन करने से कब्ज गैस धीरे धीरे ठीक हो जाती है।
  • दांतों को शीध्र चमकाने के लिए नींबू रस और बैकिंग सोड़ा पाउडर मिलाकर दांत तुरन्त चमक जाते हैं।
  • रोज सलाद में नींबू रस निचैड़ कर खाने से पेट साफ रखने में सक्षम है।
  • मोटापा कम करने और शरीर की बढ़ी चर्बी घटाने के लिए रोज सुबह गुनगुने पानी में 1 नींबू निचैड़कर, तुलसी पत्तों के रस के साथ सेवन करने से धीरे धीरे मोटापा- फैट से मुक्ति मिलती है। नींबू सेवन तेजी से कैलोरी बर्न करने में सहायक है।

  • ब्लडप्रेशर बढ़ने पर और दिल की बीमारियों में नींबू पानी नियत्रंण करने में सक्षम है। नींबू नसों धमनियों को सुचारू रक्त संचार में सहायक है।
  • गुर्दे में पथरी होने पर रोज नींबू रस और सेंधा नमक मिश्रण कर पानी में घोलकर पीने से पथरी धीरे धीरे गलनी शुरू हो जाती है। पालक, टमाटर, बैंगन खाने से परहेज रखें।
  • मुंह दांत जबड़ा शिल जाने पर या अचानक दांतों में जकड़न की स्थिति में अटक जाने पर तुरन्त नींबू की बूंदे मुंह में डालने से जबड़ा मुंह खुल जाता है। अकसर कमजोरी के कारण दांत कई शिल जाते हैं, जबड़ा रूक जाता है। नींबू रस तुरन्त लार ग्रन्थि को सक्रीय करने में सक्षम है। जिससे दांत जबड़ा खुल जाता है। नींबू मुंह से बदबू की समस्या ठीक करने में सहायक है।
  • हाथों से गहरा रंग, तेल, काली ग्रीस, कटहल रस इत्यादि तुरन्त निकालने में नींबू सरसों तेल सक्षम है। अकसर नींबू होटलों, रेस्टोरेन्ट, ढाबे आदि जगह पर भोजन उपरान्त हाथों से तेल चिकनाई छुड़ाने के लिए रखा जाता है।

  • नींबू सलाद, नींबू पानी पीने से रोगप्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। नींबू मौसम बदलाव संक्रामण-वायरल से बचाने में सक्षम है।
  • पाचन क्रिया बढ़ाने में नींबू सेवन सहायक है।
  • फेडड़ों, आंतों को स्वस्थ और रोगमुक्त रखने में नींबू सेवन सक्षम है।
  • पीलिया रोग होने पर नींबू और गन्ने का रस पीने से पीलिया रोग से जल्दी छुटकारा मिलता है।
  • हिचकी आने पर नींबू की हरी पत्तियों को चबाने से हिचकी तुरन्त रूक जाती है।
  • चेहरे से दाग धब्बे मिटाने और त्वचा पर चमक लाने के लिए नींबू त्वचा पर रगड़ना फायदेमंद है।
  • पनीर बनाने के लिए गर्म दूध को हल्का ठंड़ा होने पर नींबू मिलाने से पनीर बनाने में सहायक है।
  • हाथों में कठहल का रस, केला का रस, ग्रीस, बर्तनों- धातु से मैल दाग, धब्बे निकालने सफाई करने में नींबू सक्षम है।
  • उल्टी, चक्कर, थकान महसूस होने पर 1 गिलास नींबू पानी में चुटकी भर सेंधा नमक घोलकर पीने से उल्टी, चक्कर, थकान, कमजोरी से तुरन्त आराम मिलता है।
  • चहरे त्वचा से दाग धब्बे मिटाने के लिए नींबू रस और ग्लिसरीन मिश्रण सक्षम है।