जोड़ों के दर्द लिए खास आहार Joint Pain Relief Foods in Hindi Margdarsan, Health Tips News Hindi, Expert Advice, Enlighten, Pursuing Knowledge, Helping Guide जोड़ों के दर्द लिए खास आहार Joint Pain Relief Foods in Hindi - Margdarsan, Health Tips News Hindi, Expert Advice, Enlighten, Pursuing Knowledge, Helping Guide

जोड़ों के दर्द लिए खास आहार Joint Pain Relief Foods in Hindi

जोड़ों का दर्द असहनीय दर्द व्यक्ति को परेशान कर रख देता है। जोड़ों का दर्द अकसर आयु के बदला में ज्यादा देखा जाता है। व्यक्ति 40 की उम्र आते - आते गर्दन, कुहनियों, बाजुओं, घुटनों कूल्हों आदि के दर्द से ग्रसित हो जाता है। तुरन्त जोड़ों के दर्द से निजात पाया जा सकता है। जोकि निम्न प्रकार से हैं।

जोड़ों के दर्द से आराम पाने की युक्तियां / Joint Pain Relief Foods and Tips / Joint Pain ke Upay

Joint- Pain- Relief- Foods-Hindi, Joint-Pain-Relief-tips-in-hindi, JOINT- PAIN -RELIEF- FOODS- tips

फिश - ओमेगा 3 फेटी एसिड 
अण्डा, दूध, साल्मन मछली, शरीर से दर्द मिटाने में सक्षम है। साल्मन मछली में ओमेगा 3 - फेटी एसिड प्रचुर मात्रा में मौजूद है। जोकि सीधे शरीर में होने वालें समस्त जोड़ों के दर्द और सूजन से छुटकारा दिलाने में सक्षम है।

डा्इफूटस- एन्टीऑक्सीडेंट 
जोड़ों के दर्द निवारण के लिए ड्राईफ्रूट का सेवन अच्छा माध्यम है। नटस में एन्टीऑक्सीडेंट होता है, दर्द एवं ग्रसित अंगों को पुन स्थिति में लाने में सक्षम है।

जैतून तेल-एन्टीऑक्सीडेंट
जैतून तेल का सब्जियों में खाने में इस्तेमाल करें। और जैतून तेल से रोज सुबह शाम शरीर के ग्रसित जोड़ों दर्द वाली जगह पर मालिश करें। जैतून में एन्टीऑक्सीडेंट बहु मात्रा में होता है। और असर शीध्र करता है।

स्ट्रॉबेरी- एन्टीऑक्सीडेंट 
जोड़ों के दर्द से निजात के लिए स्ट्रॉबेरी अचूक दवा है। स्ट्रॉबेरी में एन्टीऑक्सीडेंट गुण मौजूद है। जोकि प्रभावित शरीर के अंगों को पुन ठीक करने में कारगर सिद्व है। जल्दी फायदे के लिए दोनो तरह की बेरी का सेवन जरूर करें।

मौसमी जूस-विटामिन सी 
मौसमी का जूस जोड़ों के दर्द में तुरन्त हसर करता है। मौसमी में विटामिन सी प्रचुर मात्रा में मौजूद होती है। जोकि शरीर की हड्डियों मांसपेशियों को मजबूत करती है। जोड़ों के दर्द में खिचाव से बचाती है।

हरी सब्जियां-ओमेगा 3
जोड़ों के दर्द में हरी पत्तेदार सब्जिया, पालक, राई, संरसों पत्ते, धनिया पत्ते, प्याज पत्ते, ब्राकली, अदरक, लहसुन, कलौंजी, लोंग, जीरा, इत्यादि पोष्टिक संतुलित ओमेगा3 चीजें लें।

अदरक रस-एंटीबायोटिक 
अदरक है, अदरक को बारीक पीसकर हल्की आंच में 30 मिनट तक उबालें, पानी कम होने पर एक-एक कप अदरक का तीखा काढे का सेवन सुबह शाम करने से जोड़ों के दर्द से आराम मिलता है।

औषधि तेल मालिश
एक कटोरी सरसों तेल में 10 - 15 छिली लहसुन, 2 लाल हरी मिर्च पकायें। लहसुन पकने पर उतार दें। तेल हल्का गुनगुना होने पर जोड़ों, घुटनों, गठिया ग्रसित जगह पर खूब मालिश करें। थोड़ी जलन होगी, परन्तु लगातार मालिश करने से दर्द, सूजन से छुटकारा मिलता है।

लहसुन सेवन
लहसुन से तैयार सब्जी, दाल व्यंजनों का सेवन करें। सुबह उठकर हलसुन की 2-3 कलियां निगलें। और अन्य अचार की जगह लहसुन अचार का अचार खायें। लहसुन जोंड़ों के दर्द सूजन को कम करने में मददगार है। लहसुन जोंड़ों के दर्द के लिए प्राकृतिक औषधि रूप है।

दूध हल्दी पेय
जोड़ों के दर्द से आराम पाने के लिए रोज 1 गिलास दूध में आधा चम्मच हल्दी मिलाकर पीयें। दूध हल्दी मिश्रण जोड़ों के दर्द, चोट, घाव, शरीरिक हर तरह की पीड़ा से आराम दिलाने में सक्षम है।

योगा व्यायाम 
जोंड़ों के दर्द निवारण के लिए मकरासन, त्रिकोणासन, सेतुबंधासन, शंकासन आदि करें। इन योगाभ्यास से जोंड़ों के दर्द में आराम मिलता है।