अस्थमा में अचानक सांस फूलने पर नांक सांस करे नियत्रंण Asthma Breathing in Hindi Margdarsan, Health Tips News Hindi, Expert Advice, Enlighten, Pursuing Knowledge, Helping Guide अस्थमा में अचानक सांस फूलने पर नांक सांस करे नियत्रंण Asthma Breathing in Hindi - Margdarsan, Health Tips News Hindi, Expert Advice, Enlighten, Pursuing Knowledge, Helping Guide

अस्थमा में अचानक सांस फूलने पर नांक सांस करे नियत्रंण Asthma Breathing in Hindi

यदि अस्थमा पीड़ित व्यक्ति दवाईयों से दूर और इलाज तत्काल सम्भव नहीं पाये तो बड़ी दिक्कत आ जाती है। अस्थमा पीड़ित व्यक्ति के लिए यह दौर परीक्षा का होता है। ऐसे में नांक सांस का इस्तेमाल करें। अचानक आये अस्थमा में नांक सांस अस्थमा दौरा रोकथाम में फायदेमंद है। अस्थम पीड़ित व्यक्ति एक बार जरूर अजमायें। तुरन्त अवश्य लाभ होगा।

अस्थमा में अचानक सांस फूलने पर नांक सांस करे नियत्रंण, Asthma- Breathing- in- Hindi,  Asthma- Breathing-Tips, Asthma Breathing control

नांक से सांस लेने छोडने का तरीका / Breathing Exercises for Asthma

जब दवाईयां, चिकित्सा, उपचार साथ में न हो, और अचानक सांस फूलने लगे। अस्थमा में अचानक सांस फूलने की स्थिति में पीड़ित व्यक्ति को मुंह बंद कर नांक से सांस लेने से तुरन्त आराम मिलता है। दानों नांक छिद्र से बारी बारी से सांस लें, पहले एक नांक छिद्र को बंद करें, दूसरे से सांस लें। फिर दूसरे नांक छिद्र को खोलकर अगले से सांस लें। ऐसा लगातार 10-12 मिनट तक करें। रोचक और असरदार परिणाम आपको खुद ही दिख जायेगा। अजमा कर जरूर देखें। अस्थमा पीड़ित व्यक्ति को हमेशा नांक से ही सांस लेनी चाहिए। मुंह से सांस लेने से अचानक खांसी, सांस का फूलना आरम्भ हो सकता है।

अस्थमा से निजात के लिए स्वर चिकित्सा
अस्थमा पीड़ित व्यक्ति रोज सुबह शाम, नांक स्वर, ओ3म स्वर उच्चार करते हुऐ नांक से लम्बे सांस लें और सांस धीरे धीरे छोड़े। स्वर उच्चारण योगा, आसन पालती स्थिति में बैठ कर करें। नांक छिद्र को बंद कर दूसरे नांक छिद्र से लम्बी सांस लें, फिर ओ3म शब्द का उच्चारण करें। सांस नियत्रंण में रखकर करें। तेजी से सांस न लें। स्वर चिकित्सा करने से अस्थमा से आराम मिलता है। साथ में पाचन तंत्रए कब्ज, आंतो से सम्बन्धित समस्याऐं नियत्रंण में रहती है।

आपातकाल में अस्थमा पीड़ित की अचानक सांस फूलने अनियंत्रित स्थिति में बिना दवा के नियंत्रण में लाई जा सकती है। आपात काल में यह नुस्खें फायदेमंद है।