मोटापा कैसे बढ़ता है, और मोटापा कम कैसे करें ? Obesity Reduce Tips in Hindi Margdarsan, Health Tips News Hindi, Expert Advice, Enlighten, Pursuing Knowledge, Helping Guide मोटापा कैसे बढ़ता है, और मोटापा कम कैसे करें ? Obesity Reduce Tips in Hindi - Margdarsan, Health Tips News Hindi, Expert Advice, Enlighten, Pursuing Knowledge, Helping Guide

मोटापा कैसे बढ़ता है, और मोटापा कम कैसे करें ? Obesity Reduce Tips in Hindi

मोटापा शरीर त्वचा पर फालतू चर्बी बढ़ने के कई कारण होते हैं। आमतौर पर मोटापा बढ़ना काफी हद तक अन्हेन्दी खान-पान, आलस्य, गलत जीवन शैली पर निर्भर करता है। व्यक्ति किस प्रकार का खाना खाता है। खान पान में वसा, कैलोरी की ज्यादा मात्रा होने से मोटापा बढ़ता है। 

खाने में आलू, समोशा, तेलीय पकावान, मीठी चीजें ज्यादा खाने, सोड़ा ठंड़ा पेय पदार्थ, जंकफूड, फास्टफूड एवं अन्य प्रकार के डब्बा बंद - पैकेट बंद, अन्हेन्दी खाने पीने की चीजों से शरीर में अतिरक्त वसा जमना, अपचन विकार, कैलोरी असंतुलन पाया गया है। मोटापा और वजन बढ़ने के ओर भी कई कारण हैं जैसे कि आनुवांशिक कारण, बढ़ते उम्र के साथ योगा, व्यायाम, सैर की कमी के कारण से मोटापा वजन बढ़ना है। मनोवैज्ञानिक करणों से भी व्यक्ति ज्यादा खाने लगता है। 

महिला गर्भावस्था में 2 से 3 किलो वजन शिशु के पोषण पहुंचाने के लिए ज्यादा पोष्टिक खाना है। और बीमारी में दवाईयाें का ज्यादा सेवन भी वजन बढ़ानें के साथ-साथ शरीर में तरह-तरह के रोगों की चपेट में आना भी एक कारण है।

मोटापा कैसे बढ़ता है, मोटापा कम कैसे करें ? / Obesity Reduce Tips in Hindi / motapa kaise badhta hai 


मोटापा कैसे बढ़ता है, मोटापा कम कैसे करें ?,  Obesity Reduce Tips in Hindi, मोटापा कैसे घटाएं , How To Reduce Fat, मोटापा, Obesity, कम करने के अद्भुत उपाय, इस तरह कम करें मोटापा, Weight loss tips for hindi, motapa kam karne ke upay, motapa kam kaise kare, motapa kaise badhta hai , Motapa kam kaise kare

मोटापा वजन नियंत्रण करने की आसान तरीका एक तरह से यह भी कि ज्यादा खाने से बचें। पेटभर का खाने से बजन और मोटापा अकसर बढ़ जाता है। खाने का डाईट चार्ट और टाईम टेबल बना कर कैलारी के हिसाब से खाना चाहिए। और दिनर्चया जीवन शैली कैसी है - इस बात पर भी निर्भर करता है। शरीरिक एक्टीविटी हाथ पांव हिलना, चलना फिरना वाला दिनर्चया और सात्विक जीवन शैली अपनायें। 

आप अगर ऑफिस में भी हैं तो लंच ब्रेक टाईम टहना जरूरी है। ज्यादा तक वक्त कुर्सी पर बैठकर और लेटकर बिताने की आदत से बचें। घर ऑफिस में वर्कआउट करें। घर ऑफिस में सीढि़यां चढ़े, लिफट इस्तेमाल से बचें। शाम को घर पर बैड़मिन्टन, रस्सीकूद, टेबल टेनिस जैसे छोटी छोटी आदतें डालें। इससे बच्चों के साथ खेल-कूद मनोंरजन भी आसानी से हो जाता है। और आसानी से खेल-खेल में केलौरी बर्न और वर्कआउट हो जाता है। इन खास नियमित आदतों से आप आसानी से अपना मोटापा और वजन वढ़ने से रोकने में आसानी से सफल हो सकते हैं।

मोटापा एवं वजन कम करने के उपाय 
  • नाश्ते, लंच, डिनर खाने का टाईम टेवल बनायें। नियमित एक ही वक्त पर भोजन करें। पेटभर कर खाने से बेहत्तर है कि दिनभर 5 वार थोड़ा-थोड़ा कर के खायें। इस से 40 प्रतिशत का कैलारी कनज्यूम होता है। और साथ में आपको भूख भी कम लगेगी और पाचन तन्त्र भी रही रहेगा।
  • अपने साथ एक नोट बुक रखें और उसमें सब लिखते रहिये कि आपने क्या-क्या खाया और कितना खाया। खान-पान की आदतें लिखने से आप आसानी से पता लगा पायेगे कि कैलोरी वसा वाली चीजें दिनभर में खाई गई। फिर आंकलन कर फालतू अन्हेन्दी खाने-पीने की चीजों पर प्रतिबंध लगायें।
  • सुबह, शाम कम से कम लगभग रोज 30-35 मिनट टहलें सैर करें। हाथ पांव हिलाकर टहलने सैर करने से वजन मोटापा आसानी से घटता है। इस प्रकार रोज सुबह टहलने से आप 3-4 महीने के अन्दर अपना वजन 10-15 किलो सुरक्षित तरीके से घटा सकते हैं। यह एक तरह से वजन मोटापा घटाने का आसान तरीका है।
  • सुबह जल्दी उठने की आदत डाल लें, रोज सुबह 30 मिनट पहले उठने से आपको टहलने और एक्सरसाईज करने का वक्त मिल जायेगा।
  • नीले रंगों के कपड़ों को पहनें, नीला रंग से भूख कम लगती है। जैसेकि नीला टेवल क्लोथ, नीला पेन, नीलें कपड़े पहननाव अन्य तरह से नीले रंग का प्रयोग करें।
  • खाना खाते समय छोटी-छोटी प्लेटस् का इस्तेमाल खाने में करें, छोटी प्लेटस् में खाना भी कम आयेगा और आप अपने खाने पर काफी हद तक नियन्त्रण कर पायेगें।
  • खाने को आराम-आराम से खायें, और बरीक चबाकर खायें, इससे आपको खाने से पूरे पोषण तत्व मिलेगें और पाचन तन्त्र अच्छा रहेगा। खाना हमेशा आराम से और बारीक चबाकर खाना चाहिए।
  • खाना तभी खायें जब आपको भूख लगी हो। भूख न लगने पर खाना ना खायें, ये ना सोचें कि खाया पसन्द का है, बिना भूख की वजह से खाना स्वास्थ्य के लिए हानिकार है।
  • बाजार में मौजूद सोड़ा जूस, ठंड़ा पेय पीने से बेहतर फल खाना और फलों का जूस पीना ज्यादा फायदेमंद है। बाजार में मौजूद कैमिक्लयुक्त सोड़ा टेस्ट पीने से बचें। फल स्वास्थ्य के लिए अति उत्तम हैं।
  • खाने से पहले एक गिलास पानी जरूरी पीना चाहिए, जिससे एक तो पाचन तन्त्र अच्छा रहेगा और आपको भूख भी काफी हद तक कम लगेगी।
  • सुबह रोज पानी को गर्म करें और हल्का ठण्डा होने पर, पानी के साथ एक चम्मच शहद और एक नींबू निचोड़ कर पीने से मोटापा घटता है। नीबूं और शहद शरीर के अन्य प्रकार के रोगों का भी निर्वारण करता है।
  • 7 दिनों में एक भारी शारीरिक काम करें, जैसे कि घर के काम करना, वाहन धोना, किचंन का काम, घर का डेकोरेशन बदलना, बच्चों के साथ बाहर घूमना एवं दौड़ा भाग वाला काम करें।
  • रोज दिन में एक बार अपने को शीशे आईने में देखें। शरीर का वजन करें। अपको खुद ही महसूस होगा कि आपका मोटापा कितना घटा और एक फीता भी नाप के लिए रखें।
  • महीने में 5-6 बार म्यूजिक के साथ डांन्स करें, जैसे कि म्यूजिक मोबाईल के द्वारा हेडफोन से सुन सकते हैं। इससे अपका मनोरंजन भी हो जायेगा और साथ में अच्छी खासी एक्सरसाईज भी हो जायेगी।
  • वाटर रिच फूड खायें, जैसे कि लौकी, टमाटर एवं खीरा। इन्हें खानें से कैलोरी कम होती है। और लौ फैट मिल्क का प्रयोग चाय, काॅपी पीने में करें। स्किम मिल्क का उपयोग करें क्योंकि इसमें कैल्सियम ज्यादा होता है और कैलोरी कम।
  • ज्यादा से ज्यादा पैदल चलने के कोशिश करें, पैदल चलने से कैलोरी बर्न होती है। घर के आसपास पैदल चलना, घर की छत में दिन में 2-3 बार चलना, सीढियां पर चढ़ना उतरना इत्यादि पैदल चलने की आदते डालें।

उम्मींद है कि आपने उपरोक्त सभी 15 स्टेप ध्यान से पढ़ें होगें और उनका अनुसरण करेगें, जिससे आपका मोटापा और वजन दोनों घटेगा और पर एक स्वस्थ जीवन यापन करेगें और शरीर में होने वाले रोगों से दूर रहेंगे। आपको हमारा लेख अच्छा लगा होगा और आप इसका पूरा - पूरा फायदा उठायेगें।