केला एक औषधि, जरूर खायें केला Margdarsan, Health Tips News Hindi, Expert Advice, Enlighten, Pursuing Knowledge, Helping Guide केला एक औषधि, जरूर खायें केला - Margdarsan, Health Tips News Hindi, Expert Advice, Enlighten, Pursuing Knowledge, Helping Guide

केला एक औषधि, जरूर खायें केला

केला भारत में सदाबहार पाने वाला फल है। केला ऊर्जा पौष्टिकता भरपूर माध्यम है। केले में, कैल्शियम, पोटैशियम, मैगनिशियम, विटामिन-ए, बी, बी-6 सी, फोलिक एसिड़, सिरेटोंनिन, रिबोफलेविन, टाराइन्टोफान एमिनों ऐसिड़, फाइबर, थाईमिन, नियासिन आदि महत्वपूर्ण स्वास्थ्यवर्धक गुण पाये जाते हैं। स्वस्थ शरीर के लिए रोज केला खाना चाहिए। या फिर सप्ताह में 2-3 दिन जरूर खाना चाहिए। केले में बहुगुणी होने से शरीर को अन्दर से ही नहीं अपितु बाहर से भी केला डाईट में अवश्य शामिल करें। केला शरीर को चुस्त-फुर्तीला बनाये रखने में सहायक है। केला खाने के खास फायदे हैं।

केला एक औषधि / केले के फायदे और नुकसान / Banana Health Benefits in Hindi / Kele ke Fayde aur Nuksan 

केला एक औषधि, जरूर खायें केला, Banana Health Benefits in Hindi, kela khane ke fayde, केला खाने के फायदे, kele ke fayde, healthy banana , केला औषधि, kela ke aushadhi gun, केले के औषधीय गुण
  • सिर दर्द होने पर केले को खाये और केले के छिलके का पेस्ट बना कर सिर पर लेप कर दें। इससे सिर दर्द में तुरन्त आराम मिलता है। आप पहले जैसा महसूस करेंगे। क्योंकि केले में ट्राईफटोफान एमिनो एसिड होता है जोकि सेरेटोनिन हार्मोंन जल्दी बनाता है और सिर दर्द से तुरन्तु छटकारा देता है। साथ में धमनियों के तनाव को दूर करता है। केले के छिलके में कई अन्य तरह के भी औषधीय गुण मौजूद हैं।
  • रक्त संचार के लिए और ब्लड-प्रेशर को ठीक करने में केला मददगार है। क्योंकि केले में पोटैशियम की मात्रा पाई जाती है। केला ब्लडप्रेशर रोकथाम में सहायक है।
  • केले में मैग्नीशियम और पोटैशियम होने के कारण यह दांतों के लिए अति उत्तम माना जाता है, आपकी जानकारी के लिए बता दें कि जानीमानी टूथ पेस्ट कम्पनियां भी पीलेपन व केविटी को दूर करने के लिए अपने टूथ पेस्ट में मैग्नीशियम और पोटैशियम योगिक गुणों को मिलती है। इसलिए नेचुरल केला का सेवन बाजार के कैमिक्ल युक्त टूथपेस्ट से ज्यदा सुरक्षित व फायदेमेंद है। रोज केले के छिलका दांतों पर रगड़ने से पीला पन गायब हो जाता है। और दांत चमकदार हो जाते हैं।
  • चेहरे त्वचा पर मुहांसे व दाग दोनो पर हरे केले के छिलके को बारीक पीसकर पेस्ट लगाने से दोनों मिट जाते हैं, हरे केले के छिलके का पेस्ट लगाने से 7-8 घण्टे पहले बना लें। फिर 10 मिनट के लिए लगायें। बाद में ठंड़े पानी से धो लें। और झुर्रियों को मिटाने में सहायक है। इसमें एन्टीओक्सिडेंट गुण होने हैं जोकि खून को साफ व हीमोग्लोबिन को बढ़ाता है।
  • पाचन तंत्र के लिए केला उत्तम माना जाता है। केले में प्रेबायोटिक बैक्टीरिया योगिक गुण पाचन तंत्र को ठीक करते हैं। केले से एसिडिटी से आराम मिलता है, साथ में आंतों व अमाश्य के सूजन को दूर करता है।
  • शरीर का वजर बढ़ाने में केला सहायक है, वजन बढ़ाने के लिए रोज सुबह दूध, इलायची, केला, शहद को मिलाकर शेक पीये। एक महीने में वजन बढ़ेगा न कि मोटापा। केला दूध रायता बना कर शीघ्र वजन बढ़ाने में सहायक है।
  • केला, शहद व दही का पेस्ट बनाकर चेहरे पर सप्ताह में 2 दिन लगाने से चेहरे की त्वचा सुन्दर मुलायम बनती है। और मुहांसों दानों से छुटकारा मिलता है। बनाना फेस पेक चेहरे पर लगाकर 10-15 मिनट लिए सूखने के लिए छोड़ दें। सूखने पर सादे पानी से साफ कर धो लें।
  • रूखे बाल व बालों की चमक उड़ने पर, बाल कलर करने से बिगड़ने पर केला का पेस्ट दुबारा से बालों को पहले जैसा बना देता है। 1 केला, 5 बूंदे ग्लिसरीन, 1 चम्मच शहद को मिलाकर लेप बना लें, लेप पेस्ट बालों पर 20 मिनट के लिए छोड़ दे, फिर धो लें, ऐसा सप्ताह में 2 दिन करने से बाला पुनः चमकेले नेचुरल लुक में आ जाते हैं, क्योंकि इससे बालों को विटामिन बी, सी, पोटैशियम भरपूर मात्रा में मिल जाती है। जल्दी से खराब बाल ठीक हो जाते हैं।
  • केला बच्चे, जवान, बुर्जग सभी को खाना चाहिए केले में कैरोटिनाएड एन्टीओक्सिडेंट गुण पाये जाते हैं जोकि संक्रामण से वचाता है और रोगों से लड़ने में सहायता करता है।
  • गलती से रूपया सिक्का या धातु चीज पेट में जाने पर तुरन्त पेट भरकर केले खायें। केला धातु वस्तु को बिना नुकसान के आसानी से मल के रास्ते बाहर निकालने में सहायक है। नुकीली, तीखी, भारी धातु वस्तु गले में जाने पर तुरन्त डाॅक्टर से सम्पर्क करें।
  • नकसीर, नाक से खून आने की समस्या में केला, दूध मिश्रण सेवन करना फायदेमंद है।
  • गर्भावस्था के दौरान महिलाओं के लिए केला एक तरह से सुपरफूड है। केला जच्चा-बच्चा दोनों को एक साथ रिच पोषण पहुंचाने में सहायक है।
  • दिल समस्याओं से हमेशा छुटकारा पाने के लिए केला और शहद मिश्रण फायदेमंद है। केला शहद दिल धमनियों को सुचारू स्वस्थ रखने में सहायक हैं।
  • शरीर में हीमोग्लोबिन स्तर बढाने के लिए रोज केला और हरी सब्जियां खाना फायदेमंद है। केला और हरी सब्जी तेजी से शरीर में खून की कमी पूरी करने में सहायक है।
  • हैंगओवर दूर करने के लिए केला मिल्क सेक सेवन फायदेमंद है। केला में ट्राइप्टोफान एमिनो अम्ल मौजूद है। जोकि मस्तिष्क तंत्रिकाओं को तुरन्त रिलेक्स मूड़ में लाने में सहायक है।
  • बच्चों की सही मानसिक और शरीरिक विकास के लिए रोज 1 केला अवश्य खिलायें। केले में बहुउपयोगी पौषक तत्व मौजूद है। केला रिच विटामिनस और मिनरलस का भरपूर श्रोत है।
  • केले में कैरोटिनोएड एंटीआॅक्सीडेंट, प्रोबायोटिक बैक्टीरिया, पेसटिन तत्व एक साथ मौजूद हैं। केला रोगप्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने का अच्छा माध्यम है। केला वायरल संक्रामण को शरीर से दूर रखने में फायदेमंद है।
  • पेट दर्द, पेट अल्सर होने पर कच्चा केले को आग में पका कर खाने से समस्या से शीघ्र छुटकारा दिलाने में सहायक है।
केला पोषक तत्वों से भरपूर है, केले में लगभग 20 तरह खास पौषक तत्व मौजूद हैं। खास पोषक तत्वों के कारण केले को सम्पूर्ण आहार का दर्जा दिया गया है। केला शरीर के लिए प्राकृतिक औषधि का काम करता है।

केला खाने में सावधानियां / Kele khane ke nuksan

  • डायबिटीज मरीज के लिए केला खाना मना है।
  • ध्यान रहे केला खाने के तुरन्त बाद कभी भी पानी नहीं पीना चाहिए, ऐसा करने से केले के योगिक गुण कम हो जाते हैं।
  • केला खाने के तुरन्त बाद पानी पीने से पाचन पेट दर्द, पेट खराब हो सकता है।
  • केला खाने के तुरन्त बाद पानी नहीं पीना चाहिए। इससे पेट गैस, पाचन समस्या हो सकती है।
  • सर्दीयों में केला खाने के बाद जुकाम व गला खराब हो सकता है।
  • केले हमेशा सीमित मात्रा में खायें। ज्यादा केले खाने से डायरिया, डायबिटीज, एसिडिटी कब्ज की समस्याऐं हो सकती हैं।
  • अस्थमा मरीज के लिए पका केला खाना मना है। दमा के केवल कच्चा केला आग में भून कर खाना फायदेमंद है।
  • केला खाने के बाद छिलके इधर-उधर नहीं फेंकें, छिलके पैर के नीचे आने व्यक्ति फिसल कर गम्भीर चोट लग सकती है। छिलके हमेशा डस्टबीन, कूड़े डिब्बे में ही डालें।